scriptThere will be a great chance of shopping tomorrow before Diwali, money | दिवाली के पहले कल खरीदारी का महासंयोग, गुरु पुष्य नक्षत्र में बाजारों में बरसेगा धन | Patrika News

दिवाली के पहले कल खरीदारी का महासंयोग, गुरु पुष्य नक्षत्र में बाजारों में बरसेगा धन

- दिवाली के आठ दिन पहले बन रहा यह शुभ संयोग, भूमि, भवन, वाहन, आभूषण सहित सभी प्रकार की खरीदरी के लिए रहेगा विशेष शुभ

 

भोपाल

Published: October 26, 2021 11:22:00 pm

भोपाल

शहर में दिवाली की तैयारियां शुरू हो गई है। बाजारों में भी त्योहारी सीजन की रौनक नजर आने लगी है, दिवाली के लिए खरीदारी की शुरुआत हो गई है। ऐसे में दिवाली के आठ दिन पहले गुरुवार को खरीदारी का महासंयोग रहेगा। गुरुवार को पुष्य नक्षत्र रहेगा और यह गुरु पुष्य योग बनाएगा। इस संयोग में बाजारों में जमकर खरीदारी होने की उम्मीद है।भूमि, भवन, वाहन, आभूषण, व्यापारिक अनुबंध सहित सभी प्रकार की खरीद फरोख्त और शुभ कार्यों के लिए यह संयोग विशेष शुभ माना जाता है। यह संयोग है कि यह योग धनतेरस और दिवाली के पहले आ रहा है। ऐसे में गुरु पुष्य नक्षत्र में जमकर खरीदारी होने की उम्मीद है। पंडितों का भी कहना है कि यह दिन खरीदारी के लिए काफी शुभ माना जाता है। ऐसे में दिवाली के लिए इस दिन खरीदारी कर सकते हैं।
दिवाली के पहले कल खरीदारी का महासंयोग, गुरु पुष्य नक्षत्र में बाजारों में बरसेगा धन
दिवाली के पहले कल खरीदारी का महासंयोग, गुरु पुष्य नक्षत्र में बाजारों में बरसेगा धन
स्थायित्व देती है गुरु पुष्य नक्षत्र में की गई खरीदारी
ज्योतिष मठ संस्थान के पं. विनोद गौतम का कहना है कि गुरु पुष्य योग खरीदारी के लिए काफी शुभ माना जाता है। सभी प्रकार के नक्षत्रों में पुष्य नक्षत्र को सर्वश्रेष्ठ माना गया है। खासकर जब पुष्य नक्षत्र गुरुवार और रविवार को आता है, तो यह क्रमश: गुरु पुष्य और रविपुष्य योग का संयोग बनता है। यह दोनों ही योग खासकर खरीदारी के लिए विशेष शुभ माने गए हैं। इसमें की गई खरीदारी स्थायित्व प्रदान करती है।
60 साल बाद ग्रहों की युति के बीच यह संयोग
पं. जगदीश शर्मा का कहना है कि वैसे तो गुरु पुष्य नक्षत्र का योग खरीदारी के लिए विशेष शुभ माना जाता है, लेकिन इस दिन ग्रह नक्षत्रों के जो मेल बन रहे हैं, वह भी इसे और अधिक शुभता प्रदान करेंगे। गुरुवार को मकर राशि में शनि और गुरु की युति रहेगी। ग्रह गोचर में पुष्य नक्षत्र के स्वामी और उपस्वामी की युति लगभग 60 साल बाद बन रही है। गुरुपुष्य नक्षत्र सूर्योदय से लेकर मध्यरात्रि के बाद तक विद्यमान रहेगा। इस शुभ संयोग में भूमि, भवन, वाहन, आभूषण, रत्न, सजावट का सामान, नवीन वस्त्र, इलेक्ट्रानिक सामान, लाइटिंग, मशनरी सहित प्रकार की खरीदारी करना शुभ होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहकर्नाटक में कोरोना की रफ्तार तेज, 47  हजार से अधिक नए मामलेरामगढ़ पचवारा में बरसे टिकैत, कहा किसानों की जमीन को छीनने नहीं दिया जाएगाप्रदेश के डेढ़ दर्जन जिलों में रेत का अवैध परिवहन जारी, सरकार को करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.