शहरों में पुलिस प्रशासन सख्त, गांव में लोग खुद लगा रहे 'जनता कर्फ्यू'

गांव के मुख्य रास्तों बंद कर हाथ से कंटेनमेंट लिखकर टांग दिया है....

By: Ashtha Awasthi

Published: 26 Apr 2021, 01:22 PM IST

भोपाल। संक्रमण फैलने से रोकने शहर में पुलिस प्रशासन को सख्ती करनी पड़ रही है, फिर भी लोग कंटेनमेंट क्षेत्र (Containment Area) में घूमने से बाज नहीं आ रहे सड़कों पर पुलिस किसी को रोकती है, तो बहाना बनाकर बचने की कोशिश करते हैं। वहीं गांव में तस्वीर उलट है।

शहर से सटे चौपड़ाकला, लटेरी में संक्रमण बढ़ते ही ग्रामीणों ने खुद-ब-खुद कर्फ्यू (Janata curfew) लगा दिया, जबकि प्रशासन ने ग्रामीण क्षेत्रों में कर्फ्यू नहीं लगाया है। गांव के मुख्य रास्तों बंद कर हाथ से कंटेनमेंट लिखकर टांग दिया है। गांव वाले खुद 8-8 घंटे की शिफ्ट में ड्यूटी दे रहे हैं।

MUST READ: 6 घंटे तक AIIMS के गेट पर लेटे रहे 'पापा', गार्डों ने एक नहीं सुनी, मौत

 

02_janta_curfew.png

मेडिकल स्टाफ को ही अंदर जाने की अनुमति

गांव में बाहरी लोगों का आवागमन बंद हो गया है। डॉक्टर या मेडिकल स्टाफ को ही अंदर जाने की अनुमति है। चौपड़ाकला में संक्रमण बढ़ते ही ग्राम विकास प्रस्फुटन समिति के अध्यक्ष टूमन अहिरवार, सचिव प्रेम नारायण, सरपंच सोहन सिंह, सोनू, गायत्री यादव, संतोष यादव खुद आगे आए और पंचायत कर अपने स्तर पर ही गांव में कर्फ्यू लागू कर दिया।

ये कर्फ्यू बाकायदा प्रशासन की तारीख के साथ चल रहा है। पूरी मॉनीरिंग समिति कर रही है। ग्राम कोटवार रामस्वरूप अहिरवार सुरक्षा का जिम्मा संभाले हुए हैं। लोग घर के बाहर जरूरी होने पर ही निकलते हैं, वे भी मास्क लगाकर।

MUST READ: दादी ने दी है सीख, तनाव नहीं लोगे तो कोरोना कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा

coronavirus_1.jpg

खुद लगाया कर्फ्यू

बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राजधानी के वार्ड 78 की पारस नगर कॉलोनी में मोहल्ला कर्फ्यू लगाया गया है। यहां कॉलोनी में बाहर से आने जाने वालों के लिए प्रवेश बंद कर दिया है। रहवासी दिनेश शर्मा एवं सुमित मिश्रा ने बताया कि कॉलोनी का कोई भी सदस्य जब तक अतिआवश्यक काम न हो बाहर नहीं जाता है। रोजाना ग्रुप के माध्यम से एक दूसरे सम्पर्क बनाकर एक दूसरे का हाल-चाल जानते से कॉलोनीवासी इजेशन भी खुद करा रहे हैं।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned