Assembly Election-2018: भाजपा से बागी हुए पूर्व विधायक को अचानक बीच सड़क पर लगानी पड़ी दौड़, जानिये क्यों?

Assembly Election-2018: भाजपा से बागी हुए पूर्व विधायक को अचानक बीच सड़क पर लगानी पड़ी दौड़, जानिये क्यों?

Deepesh Tiwari | Publish: Nov, 10 2018 02:20:57 PM (IST) | Updated: Nov, 11 2018 03:48:56 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

शहर में जुलूस निकालते वक्त अचानक एक ओर देखा और...

अशोकनगर@अरविंद जैन की रिपोर्ट...

भाजपा से बागी होकर बसपा में शामिल हुए एक पूर्व विधायक ने शुक्रवार को शहर में जुलूस निकालते वक्त अचानक एक ओर देखा और उनका चेहरा तमतमा गया।

इसके बाद उन्होंने बगैर इधर-उधर देखे बस दौड़ लगा दी। इससे पहले की कोई कुछ समझ पाता, भाजपा से बागी हुए बसपा के ये प्रत्याशी वहां से गायब गए।

ये है मामला...
दरअसल कांग्रेस के तीनों प्रत्याशियों ने एक साथ पहुंचकर अपने नामांकन जमा किए और इस दौरान शहर में उन्होंने शक्ति प्रदर्शन भी किया। वहीं भाजपा से बागी होकर बसपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे पूर्व विधायक राजकुमारसिंह यादव भी नामांकन के लिए सैंकड़ों वाहनों के साथ पहुंचे और शहर में जुलूस निकाला, लेकिन इसी बीच उनकी नजर जब घड़ी पर गई तो उनका चेहरा तमतमा गया।

क्योंकि नामांकन जमा होने के लिए मात्र तीन मिनिट ही शेष बचे थे, ये देखते ही वह जुलूस को छोड़कर दौड़ लगाते हुए रिटर्निंग ऑफीसर कार्यालय पहुंचे और अपना नामांकन फॉर्म जमा किया।

शुक्रवार को कांग्रेस के प्रत्याशी बृजेंद्रसिंह यादव, गोपालसिंह चौहान और जजपालसिंह जज्जी ने शहर में हजारों समर्थकों के साथ जुलूस निकाला और पैदल ही कलेक्ट्रेट पहुंचे। जहां पर तीनों प्रत्याशियों ने अपने नामांकन जमा किए। हालांकि बृजेंद्रसिंह और गोपालसिंह चौहान पूर्व में भी अपने नामांकन फॉर्म जमा कर चुके थे।

भाजपा के पूर्व विधायक व बसपा प्रत्याशी राजकुमारसिंह को रिटर्निंग ऑफीसर कार्यालय पहुंचने के लिए दौड़ लगाना पड़ी। यदि वह तीन मिनिट लेट हो जाते तो वह नामांकन जमा नहीं कर पाते। हालांकि अंतिम समय में वह नामांकन जमा करने में सफल रहे।

अंतिम दिन लगी रही नामांकनों के लिए भीड़- शुक्रवार को नामांकन जमा करने का अंतिम दिन था, इससे अभ्यर्थियों की भारी भीड़ लगी रही। हालांकि अब तक जमा हो चुके इन सभी नामांकन फॉर्मों की 12 नबंवर को जांच होगी।

14 नबंवर अभ्यर्थिता वापस लेने की अंतिम तिथि है और 14 नबंवर तक अभ्यर्थी अपने नामांकन वापस ले सकेंगे। इसके बाद शेष बचे अभ्यर्थियों की अंतिम सूची तैयार होगी और उन्हें चुनाव चिन्हों का वितरण होगा।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned