Tiger State: ...तो मध्यप्रदेश से 4 दिन में ही छिन जाएगा टाइगर स्टेट का दर्जा?

Tiger State: ...तो मध्यप्रदेश से 4 दिन में ही छिन जाएगा टाइगर स्टेट का दर्जा?

Muneshwar Kumar | Updated: 02 Aug 2019, 06:51:16 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

Tiger State: तीन बाघों की मौत के बाद उठ रहे हैं सवाल, क्या मध्यप्रदेश से छिन जाएगा टाइगर स्टेट का दर्जा

भोपाल. International Tiger Day के अवसर पर जारी किए गए आंकड़ों में मध्यप्रदेश को टाइगर स्टेट ( Tiger State ) का दर्जा मिला था। ये आकड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 29 जुलाई को जारी किया था। लेकिन चार दिन बाद ही मध्यप्रदेश ( madhya pradesh ) से टाइगर स्टेट का तमगा छिनने का खतरा मंडरा रहा है। उसके पीछे की वजह बेहद ही हैरान कर देने वाली है। मध्यप्रदेश को टाइगर स्टेट का दर्जा मिलने के बाद तीन बाघों की मौत हो गई है।

 

दरअसल, 29 जुलाई को प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली में भारत में बाघों की संख्या पर एक रिपोर्ट जारी किया था। इस रिपोर्ट में मध्यप्रदेश को टाइगर स्टेट का दर्जा मिला था। दूसरे नंबर पर कर्नाटक था। मध्यप्रदेश में 29 जुलाई तक बाघों की कुल संख्या 526 थी। जबकि कर्नाटक 524 बाघों के साथ दूसरे नंबर पर था। वहीं, पूरे देश में बाघों की कुल संख्या 2967 पहुंच गई है। इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा था कि 2014 के मुकाबले देश में 741 बाघ बढ़ गए हैं।

इसे भी पढ़ें: 4 दशक बाद फिर विंध्य में दहाड़ रहा सफेद बाघों का कुनबा, इस लेखक ने बताई A से Z तक कहानी

tiger

 

खतरे की घंटी
लेकिन तीन बाघों की मौत के बाद मध्यप्रदेश से टाइगर स्टेट का दर्जा छिनने का खतरा मंडरा रहा है। क्योंकि तीन बाघों की मौत के बाद प्रदेश में बांघों की संख्या अब 523 रह गई है। जबकि कर्नाटक में बाघों की संख्या 524 है। ऐसे में मध्यप्रदेश की तुलना में अब कर्नाटक में एक बाघ ज्यादा हो गया है। अगर आंकड़ों को देखें तो उस हिसाब से कहा जा सकता है कि एमपी से यह तमगा छिन सकता है। हालांकि आधिकारिक तौर पर ऐसा कुछ अभी नहीं आया है।

 

ऐसे हुई मौत
तीन बाघों की मौत के बाद मध्यप्रदेश के प्रशासनिक अमले में खलबली मचा हुआ है। दरअसल, मंगलवार को देर रात उमरिया जिले के घुनघुटी रेंज में दो वर्षीय बाघ शावक का शव मिला था। इससे पहले रविवार और सोमवार को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में एक बाघिन और उसके शावक का शव बरामद हुआ था। वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि आपसी लड़ाई में ही इनकी मौत हुई है।

इसे भी पढ़ें: देश में सबसे ज्यादा टाइगर वाला प्रदेश बना MP, पीएम मोदी ने जारी की रिपोर्ट

 

सीएम ने दिए जांच के निर्देश
तीन बाघों की मौत के बाद मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ भी चिंतित हैं। उन्होंने इसे लेकर जांच के निर्देश दिए हैं। सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा कि बांधवगढ़ टाइगर रिज़र्व में चार दिन में एक बाघिन और दो शावकों की मौत की ख़बर चिंतनीय। बाघों की सुरक्षा और संरक्षण को लेकर सरकार गंभीर। इसमें कोताही व लापरवाही बर्दाश्त नहीं। ऐसी घटनाओं को रोकने व मौत की घटना की जांच के निर्देश जारी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned