तिवारी को थाली, चौधरी को पत्तल पर बवाल

- सियासी सरगर्मी : फोटो वायरल हुआ तो कांग्रेस ने बनाया मुद्दा

By: anil chaudhary

Published: 26 Jun 2020, 05:04 AM IST

भोपाल. कांग्रेस छोड़ भाजपा में गए पूर्व मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी और भोपाल के भाजपा संभागीय संगठन मंत्री आशुतोष तिवारी की वायरल तस्वीर ने प्रदेश में सियासी बवाल खड़ा कर दिया है। इस तस्वीर में चौधरी और तिवारी दोनों एक टेबल पर खाना खा रहे हैं। तिवारी को स्टील की प्लेट में खाना परोसा गया है तो चौधरी डिस्पोजल पत्तल में खाना दिया गया है। कांग्रेस ने इसे दलित नेता की उपेक्षा बताते हुए भाजपा को कठघरे में खड़ा किया है। यह तस्वीर रायसेन में पूर्व मंत्री रामपाल सिंह के आवास पर रखे गए भोज की बताई जा रही है।
- कांग्रेस की ओछी मानसिकता
प्रभुराम चौधरी का कहना है कि कांग्रेस ने मेरे भोजन करने का जो फोटो ट्वीट किया है, यह सरासर गलत है। यह कांग्रेस की ओछी मानसिकता को प्रदर्शित करता है, दरअसल, रामपाल सिंह ने भोपाल और होशंगाबाद संभाग के विधायकों को भोज पर आमंत्रित किया था। भोज में जैसी प्लेटों में सभी ने खाना खाया है, मैंने भी वैसे ही खाया है। सब खड़े-खड़े खा रहे थे, मुझे जल्दी जाना थी तो मैंने आशुतोष तिवारी के साथ बैठकर भोजन किया। तिवारी का व्रत था, इसलिए उन्होंने स्टील की प्लेट में खाया, लेकिन बाकी सभी ने पत्तल में ही भोजन किया है।

- चौधरी का भाजपा में क्या सम्मान ये सामने आ गया
कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि जिस तरह वायरल फोटो में दिख रहा है, उससे साफ है की प्रभुराम चौधरी को भाजपा में किस तरह का सम्मान दिया जा रहा है। सज्जन ने कहा कि कुछ दिन पहले तुलसीराम सिलावट ने बयान दिया था कि कांग्रेस में दलितों के साथ भेदभाव किया गया, मैं बताना चाहता हूं कि कांग्रेस ने मंत्रिमंडल में 21 फीसदी दलितों को स्थान दिया। तुलसीराम सिलावट जो खुद भी दलित वर्ग से आते हैं, उन्हें भी मंत्रिमंडल में स्थान दिया था।
- निशाने पर प्रभुराम
प्रभुराम चौधरी लगातार कांग्रेस के निशाने पर हैं। इससे पहले उनकी भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ एक तस्वीर वायरल हुई थी। इस पर कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस सरकार में मंत्री बनकर शान दिखाने वाले चौधरी भााजपा में दुबककर बैठे हैं।

Congress Kamal Nath
anil chaudhary Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned