नौकरी दिलाने के नाम पर लड़कियों की तस्करी, एक गिरफ्तार

नौकरी दिलाने के नाम पर लड़कियों की तस्करी, एक गिरफ्तार

मुंबई की एनजीओ ने पुलिस की मदद से इटारसी और मंडला से ऑपरेट हो रहे मानव

इटारसी। मुंबई की एनजीओ ने पुलिस की मदद से इटारसी और मंडला से ऑपरेट हो रहे मानव तस्करी का मामला उजागर किया है। तस्करी मंडला के आसपास के गांवों से की जा रही थी।

शनिवार को एनजीओ संचालक और मुंबई पुलिस दो युवतियों और एक नाबालिग के साथ ही तस्करी के मुख्य आरोपी को इटारसी लेकर आई। आरोपी ने तस्करी से पहले एक नाबालिग से इटारसी के एक लॉज में दुष्कर्म भी किया। इटारसी पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

तीन दिन पहले मंडला बिछिया निवासी आरोपी एसू दास दो युवतियां और एक नाबालिग को इटारसी लेकर आया था और इटारसी की एक लॉज में रूका। यहां से बाद में मुंबई लेकर गया। वहां मुंबई पुलिस ने लड़कियों के साथ उसे धर दबोचा।

ऐसे आया गिरफ्त में

एनजीओ अल शहर फाउंडेशन की फैजी ने किसी परिचित परिवार के यहां एक लड़की को काम करते देखा तो लड़की के बारे में जानकारी हासिल की। तब परिवार ने बताया कि उन्होंने काम के लिए उसे 35 हजार रूपए में खरीदा है। फैजी ने लड़की बेचने वाले युवक का नंबर लिया और आरोपी से एक लड़की पैसे देकर खरीद लिया।

इसके बाद फैजी ने मुंबई पुलिस से संपर्क किया और फिर पुलिस से मिलकर पूरा जाल बुना। फैजी ने आरोपी से फिर संपर्क किया और कहा कि उन्हें और भी लड़कियां चाहिए।

इसके बाद तीन दिन बाद 29 अक्टूबर को आरोपी लड़कियां लेकर मुंबई गया और मुंबई पुलिस की गिरफ्त में आ गया। मुंबई के मालवाड़ी थाने में भी आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

नौकरी दिलाने का झांसा देता था आरोपी

आरोपी भी पीडितों के आसपास के गांव का ही रहने वाला है। वह गरीब परिवारों से संपर्क करता और फिर नौकरी दिलाने का झांसा देकर साथ ले जाता था। बरामद की गई लड़कियों को भी उसने भोपाल में नौकरी दिलाने का कहा था, लेकिन वह भोपाल की बजाय मुंबई ले गया। फैजी ने बताया कि आरोपी युवतियों को 15 हजार से लेकर और ज्यादा कीमत में बेचता था।

दो युवतियां और एक नाबालिग के साथ आरोपी को मालवाड़ी मुंबई पुलिस लेकर आई है। आरोपी और युवतियां मंडला की रहने वाली हैं। यहां आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है।
महेंद्र सिंह चौहान, टीआई, इटारसी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned