जहांगीराबाद में घर-घर पहुंचा संक्रमण, बचाने के लिए करा रहे पलायन, अब तक की बड़ी शिफ्टिंग

- अब तक 500 लोगों को किया जा चुका है अलग-अलग सेंटरों में शिफ्ट, इनमें पॉजिटिव को अलग और निगेटिवक ो अलग किया गया

भोपाल. शहर के हॉस्ट स्पॉट जहांगीराबाद 85 फीसदी घरों में संक्रमण घुस गया है। ऐसे में यहां के लोगों को बचाने के लिए प्रशासन ने लोगों की शिफ्टिंग शुरू करा दी । पिछले तीन दिन में यहां से 500 लोगों का पलाया किया जा चुका है। इन लोागों को जरूरत के कपड़े और सामान सहित अलग-अलग क्वारेंटाइन सेंटर में शिफ्ट किया है। ये लोग यहां पर अगले 14 दिनों तक यहां रहेंगे। इस दौरान जहांगीराबाद क्षेत्र को पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाएगा। ये क्षेत्र एक ऐसा एरिया बन गया है जहां संक्रमण रुक नहीं रहा। इस कारण यहां के जो लोग निगेटिव हैं या जो 55 साल से ऊपर के हैं उनको यहां से शिफ्ट किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण की चैन को तोडऩे के लिए लगातार अभिनव प्रयास किए जा रहे हैं। कलेक्टर तरूण पिथोडे ने बताया कि दूसरी जगह शिफ्ट किए गए लोगों को होटल, लॉज, स्कूल, शादी हाउस में रखा जा रहा है। बच्चों और महिलाओं को कोई परेशानी न हो इसके लिए उनको होटल में परिवार के साथ अलग रखा है। इसमें वे परिवार सबसे ज्यादा हैं जिनके यहां 20 से 30 लोग एक ही परिवार में हैं।

कोरोना मरीजों को लेकर हमीदिया में 520 बेड तैयार करने के निर्देश

कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए संभागायुक्त कविंद्र कियावत ने हमीदिया में कोरोना मरीजों के लिए सौ से बढ़ाकर 520 बेड करने के निर्देश दिए हैं। संभागायुक्त ने निर्देश दिए हैं कि हॉस्पिटल में ऐसे कौन सी जरूरत हैं जिसे पूरा करने के बाद बेड बढ़ाए जा सकते हैं, उनके बारे में पीडब्ल्यूडी और स्वास्थ्य विभाग का अमला बुधवार से निरीक्षण करेगा। इसके बाद जहां जरुरत पड़ेगी उस जगह पर काम पूरा कराने के बाद बेड की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा कोई अन्य निर्माण कार्य अभी अस्पताल में शुरू नहीं होगा। पहली प्राथमिकता कोरोना के मरीजों के लिए बेड बढ़ाने की है।

प्रवेंद्र तोमर Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned