कांग्रेस के महामंत्री सहित 3 नेताओं को गांव वालों ने बेरहमी से पीटा! कारण जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

कांग्रेस के महामंत्री सहित 3 नेताओं को गांव वालों ने बेरहमी से पीटा! कारण जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

Deepesh Tiwari | Updated: 26 Jul 2019, 06:51:20 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

हर रोज पिट रहे हैं बेगुनाह...

भोपाल। मध्य प्रदेश में इन दिनों बच्चा चोरी की घटना को रोकने के लिए आम जनता सड़कों में आ गई है। ऐसे में जहां कुछ मामलों में बच्चा चोरी करने वाले कुछ लोगों के पकड़ में आने की सूचना है,वहीं कई जनता के सड़क पर उतर आने से हर रोज कोई न कोई बेगुनाह भी जनता के हत्थे चढ़ रहा है।

ऐसा ही एक मामला बैतूल से भी सामने आया है, जहां ग्रामीणों ने कांग्रेस के दो नेताओं को बच्चा चोर होने के शक पर बुरी तरह से पीट दिया। वहीं इससे पहले संदेह पर निर्दोषों को पीटे जाने के कुछ मामले मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भी आ चुके हैं। लेकिन इसके बावजूद पुलिस की नाकामी के चलते इन मामलों पर रोक लगती नहीं दिख रही है।

ऐसे समझें क्या हुआ कांग्रेस नेताओं के साथ...
दरअसल बैतूल के केसिया गांव में अपने घर लौट रहे दो कांग्रेसी नेता और एक सामाजिक कार्यकर्ता को गांव वालों ने बच्चा चोर समझकर बेरहमी से पीट दिया साथ ही उनकी कार भी तोड़फोड़ दी। वहीं सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस पीडि़तों को थाने लेकर आई। इस मामले में पांच लोगों पर एफआइआर दर्ज की गई है।

पूरा घटनाक्रम...
बच्चा चोरी के शक में गुरुवार रात कुछ ग्रामीणों ने सीतलझिरी गांव के पास दो कांग्रेस और एक आदिवासी नेता को पीट दिया। जानकारी के अनुसार, कांग्रेस के जिला महामंत्री धर्मेन्द्र शुक्ला निवासी शाहपुर, जनपद सदस्य धरमू सिंह लांजीवार निवासी देसावाड़ी और आदिवासी कोरकू समाज के तहसील अध्यक्ष ललित बारस्कर निवासी शाहपुर गुुरुवार रात 12 बजे केसिया गांव से घर लौट रहे थे।

तीनों कांग्रेस नेता कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष नरेंद्र मिश्रा से मिलकर लौट रहे थे। जब उनकी कार सीतलझिरी गांव के पास पहुंची, तो उन्हें रास्ते पर झाडिय़ां दिखाई दीं।

अनहोनी की आशंका में नेताओं ने अपनी कार वापस मोड़ दी, लेकिन इसी बीच झाडिय़ों में छिपकर बैठे ग्रामीणों ने उन्हें बच्चा चोर समझकर रोक लिया और जमकर पिटाई की। यही नहीं ग्रामीणों ने उनकी कार में तोडफ़ोड़ की। कांग्रेस नेताओं ने किसी तरह जान बचाकर पुलिस तक सूचना पहुंचाई। मौके पर पहुंचे शाहपुर थाना प्रभारी दीपक पाराशर उन्हें थाने लेकर आए।

 

भोपाल में भी हुई घटना...
वहीं सोशल मीडिया पर बच्चा चोर गिरोह की अफवाह ने इतना डर पैदा कर दिया है कि कहीं भी किसी अनजान पर बच्चा चोर होने का शक होने पर भीड़ टूट पड़ती है।

ऐसा ही एक मामला भोपाल में भी बुधवार रात करीब साढ़े ग्यारह बजे छोला इलाके में सामने आया। जहां अपने मौसा के घर का पता पूछने पर सागर से आए एक युवक की भीड़ ने बच्चा चोर होने के संदेह में बेरहमी से पिटाई कर दी। युवक की हालत गंभीर है। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है।

bhopal ki ghatna

पुलिस के मुताबिक, जयसिंह नगर सागर निवासी 25 वर्षीय रवि रजक बुधवार रात करीब साढ़े ग्यारह बजे शिव शक्ति नगर में रहने वाले अपने मौसा संतोष रजक के घर पैदल जा रहा था। इसी बीच वह शंकर नगर तिराहे पर रास्ता भटक गया।

तिराहे पर खड़े चार-पांच लोगों से उसने शिव शक्ति नगर की संकरी गली के बारे में पूछा। इस पर तिराहे पर खड़े लोगों ने इलाके में बच्चा चोर की अफवाह फैला दी। थोड़ी देर बाद रहवासियों ने रवि को घेरकर पकड़ लिया। आधा घंटे तक भीड़ मारपीट करती रही। पुलिस रवि को थाने लेकर आई। इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया।

भले ही भोपाल में छोला थाना पुलिस ने गुरुवार को इलाके में जनसंवाद का आयोजन कर लोगों को बच्चा चोरी की अफवाहों से बचने की अपील की। लेकिन इसका असर न के बराबर देखने को मिल रहा है। वहीं पुलिस ने लोगों से कहा कि कोई संदिग्ध यदि दिखता है तो पुलिस को सूचित करें। उसके साथ मारपीट करने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। लेकिन पिछले दिनों हुई घटनओं के बाद से जनता अपने गुस्से पर काबू नहीं रख पा रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned