प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर दो अधिकारी निलंबित, मंत्री ने तंज भरे लहजे में कहा था- अफसर सो गए होंगे इसलिए नहीं आए

मंत्री गोपाल भार्गव सागर में 26 जनवरी को ध्वजारोहण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे।

By: Pawan Tiwari

Published: 28 Jan 2021, 04:19 PM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश के दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। दरअसल, मध्यप्रदेश के लोकनिर्माण मंत्री गोपाल भार्गव 25 जनवरी की रात सागर पहुंचे औऱ ये दोनों अधिकारी पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव को सर्किट हाउस में रिसीव करने नहीं पहुंचे थे। जिसके बाद अनुविभागीय अधिकारी जेएम तिवारी और कार्यपालन यंत्री हरिशंकर जायसवाल को निलंबित कर दिया गया है।

सागर में किया था ध्वजारोहण
मंत्री गोपाल भार्गव सागर में 26 जनवरी को ध्वजारोहण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे। एक दिन पहले रात 10 बजे भार्गव सागर सर्किट हाउस पहुंचे थे, लेकिन प्रोटोकॉल के तहत उन्हें रिसीव करने जिला प्रशासन का कोई भी अधिकारी नहीं पहुंचा था। जबकि भार्गव के सागर आगमन की सूचना दोपहर में ही कलेक्टर कार्यालय को दे दी थी।

तंज भरे लहजे में दिया गया था जवाब
मंत्री गोपाल भार्गव से जब इस बारे में पूछा गया था तो उन्होंने कहा था था कि हो सकता है अफसर पुताई करा रहे होंगे, इसलिए नहीं आए। शायद वे दिन भर काम करते थक गए होंगे और रात में जल्दी सो गए होंगे। उन्हें प्रोटोकॉल का ध्यान नहीं रहा होगा। अफसरों को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी चाहिए।

दो अधिकारियों की लगी थी ड्यूटी
सागर कलेक्टर ने मंत्री भार्गव को रिसीव करने के लिए अनुविभागीय अधिकारी जेएम तिवारी और कार्यपालन यंत्री हरिशंकर जायसवाल की डयूटी लगाई थी, लेकिन दोनों तय समय पर सर्किट हाउस नहीं पहुंचे थे।

भोपाल अटैच
लोक निर्माण विभाग ने गुरुवार को प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के आरोप में दोनों को निलंबित कर दिया गया है। आदेश के मुताबिक दोनों इंजीनियरों को पीडब्ल्यूडी मुख्यालय भोपाल में अटैच किया गया है।

Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned