बोर्ड परीक्षा के बाद होंगे नगरीय निकाय चुनाव, राज्य निर्वाचन ने दिग्विजय से कहा- 'EVM से ही होगा मतदान'

दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर राज्य निर्वाचन आयोग से मतपत्र से चुनाव कराने की मांग कर दी, जिसे एक बार फिर आयोग द्वारा खारिज कर दिया गया है।

By: Faiz

Published: 24 Feb 2021, 09:30 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में फिलहाल, नगरीय निकाय चुनाव का ऐलान अब तक नहीं हुआ है। हालांकि, प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल यानी कांग्रेस की ओर से आगामी चुनावों को मतपत्र पर कराने की लगातार मांग की जा रही है। तो वहीं, राज्य निर्वाचन आयोग भी हर बार मतपत्र से चुनाव कराने की मांग को खारिज करता आ रहा है। बावजूद इसके कांग्रेस अपनी मांग पर अड़िग है। इसी कड़ी में एक बार फिर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर राज्य निर्वाचन आयोग से मतपत्र से चुनाव कराने की मांग कर दी, जिसे एक बार फिर आयोग द्वारा खारिज कर दिया गया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- Twitter पर हिन्दी को मान्यता नहीं, हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से किया सवाल- 'अब तक आपने क्या किया'


बोर्ड परीक्षा के बाद होंगे चुनाव- चुनाव आयुक्त

दिग्विजय सिंह द्वारा की गई मतपत्र पर चुनाव की मांग को इस बार निर्वाचन आयोग मध्य प्रदेश के आयुक्त बीपी सिंह ने साफतौर पर कह दिया है कि, आयोग द्वारा ईवीएम (EVM) से चुनाव कराने का नोटिफिकेशन जारी किया जा चुका है। ऐसे में इस बार होने वाले नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम से ही होंगे। इसके साथ ही, उन्होंने ये भी साफ किया कि, निकाय चुनाव बोर्ड परीक्षाओं के बाद ही होंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना इफेक्ट : इस साल भी नहीं निकलेगी रंगपंचमी की गेर, 75 साल में कोरोना की ही वजह से दूसरी बार लगा ब्रेक


दिग्विजय ने आयोग में की थी ये शिकायत

आपको बता दें कि, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने राज्य निर्वाचन आयोग में मतदाता सूची और ईवीएम को लेकर शिकायत की थी। अपनी शिकायत में दिग्विजय ने कहा था कि, कांग्रेस ने हमेशा से ईवीएम से चुनाव कराने का विरोध किया है। चुनाव आयुक्त से हमने मतपत्र पर चुनाव कराने की मांग की है। हमेशा चुनाव सिर्फ ईवीएम से ही कराना तो किसी तरह की कानूनी बाध्यता नहीं है। दिग्विजय ने अपनी शिकायत में मतदाता सूची में हेरफेर का भी अंदेशा जाहिर किया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- मजदूर को मिला उज्ज्वल किस्म का बेशकीमती हीरा, लाखों में है इस नायाब हीरे की कीमत


भाजपा पर लगाया आरोप

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि, जो पैसा इक्कठा किया गया, उसका इस्तेमाल सिर्फ सरकार गिराने के लिए किया गया। भाजपा सब जगह भ्रष्टाचार कर सकती है। वैक्सीन में भी घोटाला हो रहा है। लाशों पर भी भ्रष्टाचार है। ताबूत पर भ्रष्टाचार कर सकते हैं और आपदा में भाजपा भ्रष्टाचार है। कांग्रेस ने कोई परंपरा नहीं तोड़ी। बल्कि, भाजपा ही परंपराएं तोड़ती रही है। भाजपा सरकार दुर्भावना से चुन-चुनकर कांग्रेस से जुड़े हुए लोगों पर कार्रवाई कर रही है।

 

पढ़ें ये खास खबर- शबरी माता जयंती पर शहर में निकला चल समारोह, आदिवासी भजनों की धुन पर थिरके लोग


परीक्षाओं के बाद होंगे चुनाव

आपको बता दें कि, पहले अंदाजा लगाया जा रहा था कि, मार्च में चुनाव की तारीख का ऐलान हो सकता है, लेकिन अब चुनाव आयुक्त की सफाई के बाद ये स्पष्ट हो गया है कि, चुनावी तारीखें मार्च या अप्रैल में नहीं बल्कि इसके बाद आने वाले महीनों में परीक्षा होने के बाद ही हो सकेंगे। चुनाव आयुक्त ने ये भी स्पष्ट किया कि, चुनावों के कारण परीक्षा में किसी तरह का व्यवधान न हो इसका ध्यान रखा जाएगा। अभी चुनाव की तारीख तय नहीं है, तो कैसे मानें परीक्षाओं के समय चुनाव होंगे। परीक्षा, त्यौहार सब ध्यान में रखकर चुनाव की तारीखें तय होंगी। क्योंकि, चुनाव इंतजार कर सकते हैं, लेकिन परीक्षाएं नहीं। ज्यादातर पोलिंग बूथ विद्यालयों में हैं, ऐसे में परीक्षाएं रोककर तो मतदान किया नहीं जा सकता।

 

पत्रिका स्टिंग में बड़ा खुलासा - video

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned