कहीं निजी परिचय से, तो कहीं चोरी छिपे घुसकर लगवा ली पहली डोज

कोरोना टीकाकरण में दूसरे डोज की संख्या बढ़ाने अभियान में भी पहली डोज की सेंध हो रही है। बुधवार को टीकाकरण के दौरान लोग परेशान होते रहे।

By: Pradeep Kumar Sharma

Published: 08 Jul 2021, 01:16 AM IST

भोपाल. कोरोना टीकाकरण में दूसरे डोज की संख्या बढ़ाने अभियान में भी पहली डोज की सेंध हो रही है। बुधवार को टीकाकरण के दौरान लोग परेशान होते रहे। कहीं केंद्र पर परिचितों को बैकडोर से एंट्री देने के बाद विवाद हुआ, तो कहीं स्लॉट बुक होने के बावजूद घंटों लाइन में खड़े रहने से विवाद हुए। विशेषकर दूसरे डोज का वैक्सीनेशन होने के बावजूद शहर में हर घंटे फस्र्ट डोज भी लगाए गए।
सुबह 9 बजे का स्लॉट, टीका लगा एक बजे: गीतांजली कॉलेज के पास बने केंद्र में अव्यवस्थाओं के चलते कई बार विवाद की स्थिति बनी। शिकायत थी कि सुबह 9 बजे का स्लॉट बुक करने वाले भी दो से तीन घंटे खड़े रहे। कुछ लोग स्टाफ के परिचित थे। ऐसे में उन्हें दूसरे रास्ते से अंदर बुलाकर टीका लगा दिया गया। इससे विवाद की स्थिति बन गई।

पुराने शहर में सब्र, नए शहर में विवाद
स्टेशन एरिया स्कूल, इंदिरा गांधी अस्पताल में विवाद और भीड़ से बचने के लिए टोकन बांट दिए गए। लोग अपने नंबरों के टोकन लेकर पेड़ों की छांव में बैठे रहे। जब उनके नंबर की आवाज लगाई गई वे वैक्सीन लगवा आए। इसके उलट नए शहर के सेंटरों में सोमवार की तरह ही भीड़ और लंबी लाइन नजर आई। विभाग ने दो दिन पहलें ही तय किया था कि बुधवार को सिर्फ सेकेंड डोज ही लगाए जाएंगे। इसके बावजूद सेंटरों पर फस्र्ट डोज भी लगाए गए। कोविन पोर्टल के मुताबिक शहर में बुधवार को हर घंटे फस्र्ट डोज लगाए गए। दिनभर में दो हजार से ज्यादा लोगों को फस्र्ट डोज लगे।

करना पड़ा दो घंटे इंतजार
टीकाकरण के दौरान सर्वर ठप्प होने से भी कई सेंटरों पर लोगों को लंबा इंतजार करना पड़ा। शासकीय कमला नेहरू स्कूल टीटी नगर में सर्वर नहीं चलने से टीकाकरण करीब दो घंटे रूका रहा। 12 बजे आए लोगों को भी ढाई बजे तक इंतजार करना पड़ा। आखिरकार स्टाफ ने कागज में सभी की एंट्री कर टीके लगाना शुरू किए बाद में उनकी एंट्री कोविन पोर्टल पर की गई।
27,500 लोगों ने ही लगवाए टीके
बुधवार के लिए विभाग के पास 34200 डोज थे, इनमें कोवीशील्ड के 25000 और कोवैक्सीन के 9200 डोज थे। इसके बावजूद शाम सात बजे तक शहर में सिर्फ 27500 डोज ही लग सके। जबकि 10 फीसदी अतिरिक्त डोज जोड़ें तो 37440 डोज लाएग जाने चाहिए थे।

Pradeep Kumar Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned