मौसम विभाग का अलर्ट, 35 जिलों में बारिश और गरज-चमक के साथ आंधी की संभावना

मौसम विभाग ने के मुताबिक मौसम में उतार-चढ़ाव का खेल जारी है, कभी गर्मी कभी बारिश का दौर चलता रहेगा...।

By: Manish Gite

Published: 18 Apr 2020, 06:56 PM IST

 

भोपाल। मध्यप्रदेश में मौसम का उतार-चढ़ाव जारी है। शनिवार को कई जिलों में हल्की बारिश दर्ज की गई। जबकि मौसम विभाग ( imd ) ने आने वाले 24 घंटों के दौरान एक बार फिर बारिश की चेतावनी ( rainfall alert ) जारी की है। यह चेतावनी 19 जिलों के जारी की गई है। इसके अलावा प्रदेश के 16 जिलों में गरज-चमक के साथ तेज हवा चलने की आशंका भी व्यक्त की गई है। तेज हवा वाले जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है।

यहां बारिश की संभावना
मौसम विभाग ने बुलेटिन जारी कर कहा है कि आने वाले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के 19 जिलों में कहीं-कहीं बारिश हो सकती है, वहीं कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। इनमें रीवा और शहडोल संभागों के जिलों शामिल हैं। रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, अनूपपुर, उमरिया, शहडोल, कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, सागर, रायसेन, भोपाल, राजगढ़, होशंगाबाद, बैतूल, धार और इंदौर जिले शामिल हैं।

 

गरज-चमक के साथ चलेगी तेज हवा
मध्यप्रदेश के रीवा संभाग के रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली समेत, अनूपपुर, उमरिया, कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, रायसेन, भोपाल, राजगढ़, होशंगाबाद, बैतूल, धार और इंदौर जिलों में गरज-चमक के साथ तेज हवा चलेगी। हवा की रफ्तार 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है।

 

weather.jpg

 


यह है पिछले 24 घंटों का हाल
मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के ग्वालियर, होशंगाबाद, उज्जैन, जबलपुर और रीवा संभागों के जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई और शेष संभागों के जिलों में मौसम शुष्क रहा। प्रदेश के रीवा और शहडोल संभागों के जिलों में सामान्य से अधिक तापमान रहा। प्रदेश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान खंडवा और होशंगाबाद का रहा। यहां 43 डिग्री से. तापमान दर्ज किया गया।


भोपाल में तापमान 40 पार
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में तापमान 40 पार निकल गया है। यहां लोग गर्मी से परेशान होते दिखाई दिए हैं। हालांकि कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन है और ज्यादातर लोग सड़कों पर नहीं निकल रहे हैं। भोपाल में तापमान 40.1 रिकार्ड किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान 26.4 दर्ज किया गया। मौसम विभाग का कहना है कि अभी आने वाले तीन-चार दिनों में मौसम में परिवर्तन होगा और तापमान में और अधिक उछाल आएगा।

मौसम परिस्थितियाँ
-वेस्टर्न डिस्टर्बेंस को अब साइक्लोनिक सर्कुलेशन के रूप में पूर्वोत्तर अफगानिस्तान और आसपास के क्षेत्रों में अौसत समुद्र तल से 3.1 किमी और 3.6 किमी ऊपर के बीच देखा जा रहा है।

-इस वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के साथ एक द्रोणिका जिसकी धुरी औसत समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर है तथा यह द्रोणिका लगभग 65 °पूर्वी देशांतर से उत्तर की ओर 26 ° उत्तरी अक्षांश तक चलायमान है।

-औसत समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर एक प्रेरित साइक्लोनिक सर्कुलेशन मध्य पाकिस्तान एवं आसपास के क्षेत्रों पर बना हुआ है।

-दक्षिण असम और आसपास के क्षेत्रों पर चक्रवाती संचरण विद्यमान है और अब इसका औसत समुद्र तल से 1.5 किमी उर्वधर फैलाव है।
पूर्वी उत्तर प्रदेश एवं आसपास के क्षेत्रों में औसत समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर तक फैला चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है।

-औसत समुद्र के स्तर से 0.9 किमी ऊपर तक फैली हुई द्रोणिका/पवन असंतुलन (विण्ड डिसकन्टिन्यूटी) अब दक्षिण-पूर्व मध्य प्रदेश से विदर्भ, तेलंगाना और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक होती हुई दक्षिण तटीय तमिलनाडु तक चलायमान है।

-विषुवतीय हिंद महासागर से दक्षिण-पूर्वी अरब सागर से दक्षिण-पूर्व अरब सागर सुदूर दक्षिणी केरल तट तक इस्टरली मे द्रोणिका अब औसत समुद्र तल से 1.5 किमी ऊपर स्थित है।



rainfall alert Weather forecast weather report
Show More
Manish Gite
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned