मुख्य सचिव ने केंद्र से पैसा लाने को कहा तो पीएस ने ये क्या कह दिया

- बजट को लेकर समीक्षा : सीएस ने प्रमुख सचिवों से की पैसे पर बात

By: anil chaudhary

Published: 08 Jun 2019, 05:04 AM IST

भोपाल. प्रदेश के सरकारी खजाने की खस्ता हालत और आगामी मुख्य बजट को लेकर मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने शुक्रवार को सभी प्रमुख सचिवों के साथ बैठक की। इसमें प्रमुख सचिवों को साफ कहा गया कि केंद्र सरकार की योजनाओं में ज्यादा से ज्यादा पैसा लाया जाए। इस पर कुछ प्रमुख सचिव बोले- जो पैसा पहले का अटका है वो ही अभी मिल नहीं पा रहा है। इस पर मुख्य सचिव ने कहा कि ये तो और गंभीर बात है, इसलिए पहले जो पैसा अटका है, उसका जल्द भुगतान कराया जाए। इसके बाद योजनाओं का और पैसा केंद्र से लिया जाए।
विधानसभा के मानसून सत्र में सरकार का मुख्य बजट पेश होना है, इसलिए मुख्य बजट के लिए विभागों की मांगों को अंतिम रूप देने के लिए यह बैठक रखी गई। इसमें बजट के सदुपयोग और विभिन्न मदों में खर्च को लेकर चर्चा हुई। प्रदेश के कोर-सबजेक्ट वाले सेक्टर में अधिक बजट रखने और उस पर खर्च को संतुलित करने के लिए कहा गया।
सूत्रों के मुताबिक मुख्य सचिव ने कहा कि केंद्र की जिन योजनाओं में पहले का बजट अटका हुआ है, उसे लाने के लिए केंद्रीय मंत्रालय से बात की जाए। इसके लिए जरूरत पड़ती है तो केंद्र के अफसरों से मिलने भी प्रदेश के अफसर जाए। इसके तहत इसी महीने में ग्रामीण विकास व अन्य विभागों की टीमें केंद्र के अफसरों से मिलने जा सकती है। गेहूं उपार्जन की सीमा और मनरेगा व भावांतर सहित अन्य योजनाओं की अटकी राशि को लेकर भी चर्चा हुई।

- जिसे जो समस्या हो अभी बता दो
सीएस ने कहा कि विभागों की मांगों पर अलग-अलग चर्चा हो चुकी है, इसलिए अब बजट को लेकर किसी को कोई समस्या हो या कोई और बात हो तो अभी बता दी जाए। बाद में उस पर विचार नहीं होगा। इस पर गृह विभाग, आदिम जाति कल्याण विभाग व अन्य कुछ विभाग ने अपनी समस्याएं रखी। इस पर सीएस ने उनका समाधान करके पूरे बजट को एकजाई करने के निर्देश दिए।
- सख्त ताकीद, बाहर चुप रहना
बजट को लेकर मंथन के दौरान सीएस ने प्रमुख सचिवों को कहा कि समीक्षा को लेकर बाहर चुप रहना। सीएस ने साफ तौर पर ताकीद किया कि बैठक की बातें बाहर नहीं जानी चाहिए। यहां तक कि चार बार सीएस ने अपनी चेतावनी दोहराई। विशेष तौर पर मीडिया में बातें नहीं जाने की हिदायत दी गई।

 

anil chaudhary Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned