राहुल गांधी पहुंचे भोपाल, कांग्रेस के रोड-शो में फिर चली आंख with live UPDATES video

राहुल गांधी पहुंचे भोपाल, कांग्रेस के रोड-शो में फिर चली आंख with live UPDATES video

Deepesh Tiwari | Publish: Sep, 16 2018 09:43:27 PM (IST) | Updated: Sep, 17 2018 09:59:07 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

मंत्रोच्चार और कन्या पूजन से शुरू हुआ कारवां...

भोपाल। MP में जल्द होने वाले विधानसभा के चुनावों को देखते हुए राहुल गांधी भी कांग्रेस को जीत दिलाने के लिए चुनावी दौरे में जुट गये हैं। इसी के चलते भोपाल में होने वाले कांग्रेस के रोड शो की अगुवाई राहुल कर रहे हैं।

स्टेट हैंगर से भोपाल आए...
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस के रोड शो के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 17 सितंबर को दोपहर करीब 12.30 बजे स्टेट हैंगर से भोपाल पहुंचे। इस दौरान उनकी अगवानी के लिए पीसीसी के 17 दिग्गज नेता मौजूद रहे। वहीं इससे पहले रविवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल आ गए थे। इसके बाद वे सीधे कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण करने भेल दशहरा मैदान पहुंचे।
इसके बाद वे रैली के लिए लाल घाटी को रवाना हो गए।

दरअसल 17 सितंबर यानि आज भोपाल में राहुल गांधी कार्यकर्ताओं में आगामी चुनाव को लेकर जोश भरने के अलावा रोड शो भी करेंगे। यहां उनका काफिला लाल घाटी से रोड शो के साथ भेल दशहरा मैदान में पहुंचेगा। उनके रोड शो और जनसभा की तैयारियों का जायजा प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ले चुके हैं। कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल की यह मध्य प्रदेश की राजधानी में पहली यात्रा होगी।

rahul gandhi  <a href=road show in bhopal02" src="https://new-img.patrika.com/upload/2018/09/17/rahh_3422248-m.jpg">

पोस्टरों से पाटा शहर...
कांग्रेस की इस रैली के चलते भोपाल शहर को कई पोस्टरों से पाट दिया गया है, इन पोस्टरों में राहुल भगवान शिव पर जल अर्पण करते हुए दिखाई दे रहे हैं। कहा जा रहा है कि इन पोस्टरों के माध्यम से राहुल को शिवभक्त दिखाने की कोशिश की जा रही है।

वहीं राजनीति के जानकार डीके शर्मा का कहना है कि इन पोस्टरों से यह तो तय हो गया है कि पार्टी राज्य में हिंदुत्व के रास्ते ही जीत की राह खोजने का प्रयास करेगी। जबकि शहर में यह पोस्टर चर्चा का केंद्र बने हुए हैं। कई पोस्टरों में राहुल गांधी को शिव भक्त भी बताया जा रहा है।

वहीं राहुल के पोस्टरों में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की तस्वीर न होना भी चर्चा का विषय बना हुआ है। वहीं कटआउट नहीं होने से नाराज दिग्विजयसिंह बोले, मैं अपना चेहरा रोज देख लेता हूं। मैंने खुद ही मना किया था फ़ोटो लगाने के लिए।

 

भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी...
इससे पहले चर्चा थी कि राहुल के रोड शो को सफल बनाने के लिए टिकट दावेदारों को रोड शो में भारी भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी आलाकमान की ओर से दी गई है। वहीं सूत्रों कहते हैं कि जो प्रत्याशी जितनी भीड़ जुटाएगा, प्रदेश आलाकमान की नजर में उसकी हैसियत उतनी ही ज्यादा होगी। वहीं यह बात भी सामने आ रही है कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने हर टिकट दावेदार को पांच हजार लोगों की भीड़ जुटाने के लिए कहा है।

टिकट दावेदारों के लिए भीड़ जुटाना जहां टिकट पक्की करने का सीधा और आसान तरीका है, वहीं इसे बड़ी चुनौती भी बताया जा रहा है। टिकट की दावेदारी करने वाले नेताओं के अलावा पार्टी ने जिला अध्यक्षों को भी इतना ही टार्गेट दिया गया है। उन्हें भी पांच हजार लोगों की भीड़ जुटाने का निर्देश दिया गया है।

 

 

Election 2018

जानकारों के अनुसार कुल मिलाकर ये बात सामने आ रही है कि राहुल गांधी के रोड शो को मेगा रोड शो बनाने में प्रदेश कांग्रेस एड़ी चोटी का जोर लगा रही है। इसीलिए सभी नेताओं को कमर कस लेने को कहने के अलावा दावेदारों से भीड़ जुटाने के लिए भी कहा गया है।

वहीं इसकी तैयारियों का प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने खुद जायजा लिया है। वहीं पूर्व में रोड शो के पहले कमलनाथ ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में हो रही रैली में भी शिरकत की।

सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद...
राहुल गांधी की रैली के मद्देनजर पूरे शहर की सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रखी गई है। भोपाल पुलिस ने एक दिन पहले ही यातायात को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिये थे। दूसरी ओर 13 किलोमीटर लंबे रोडशो को सफल बनाने के लिए पार्टी की राज्य इकाई ने एड़ी चोटी का पूरा जोर लगा दिया है।

माना जा रहा है कि इस रैली में सबसे ज्यादा भीड़ उन नेताओं की होगी जो विधानसभा चुनाव के दावेदार हैं। अंदरखाने पार्टी ने भी यह कह दिया है कि रैली में जो जितनी ज्यादा भीड़ जुटाएगा, टिकट मिलने के आसार उसके लिए उतने ही ज्यादा होंगे।

ये है राहुल का कार्यक्रम
भोपाल के लालघाटी से शुरू होकर ये रोड शो भेल के दशहरा मैदान तक होगा। वहीं इसके बाद कार्यकर्ताओं का सम्मेलन दशहरा मैदान में होगा, जहां राहुल गांधी कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद भी करेंगे। राहुल गांधी के संवाद कार्यक्रम को पार्टी ने कार्यकर्ता सम्मेलन का नाम दिया है। इससे पहले राहुल गांधी विशेष विमान से भोपाल के राजा भोज हवाई अड्डे पर हवाई मार्ग से पहुंचेंगे। यहां से वह दोपहर एक बजे कार से रवाना होकर शहर के लालघाटी सर्कल पहुंचेंगे।

ये है रोड शो का मार्ग...
रोड शो कलेक्टर रोड, रॉयल मार्केट ब्रिज, पीर गेट, वीआईपी रोड सर्कल, पॉलिटेक्निक चौराहा, रोशनपुरा सर्कल, अपेक्स बैंक सर्कल, बोर्ड ऑफिस सर्कल एवं कस्तूरबा नगर सर्कल के रास्ते भेल दशहरा मैदान होते हुए गुजरेगा।

Election 2018 campaign of rahul gandhi

वही राहुल के संवाद कार्यक्रम में कांग्रेस के करीब 1,5000 कार्यकर्ता भाग लेंगे, जिनमें ब्लॉक, जिला एवं प्रदेश स्तर के कार्यकर्ता, पार्षद और पार्टी के बड़े नेता मौजूद रहेंगे।

रोड शो शुरू...
17 सितंबर को गांधी सुबह विशेष विमान के जरिए भोपाल पहुंचेंगे। यहां से सुरक्षा के मद्देनजर वे एक बंद गाड़ी में एयरपोर्ट से लालघाटी जाएंगे। जहां जिला कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उनके स्वागत के लिए खास तैयारियां की हैं। यहां से वह विशेष बस में सवार होकर रोड शो शुरू करेंगे। जो वीआईपी गेस्ट हाउस से होते हुए, पुराना सचिवालय, हमीदिया चौराहा, सदर मंजिल, मोती मस्जिद, कमला पार्क, पॉलिटेक्निक चौराहा, रोशनपुरा, अपेक्स बैंक तिराहा, पीसीसी, बोर्ड आफिस, चेतक ब्रिज, आईएसबीटी से होते हुए 12 किलोमीटर की दूरी तय करके भेल दशहरा मैदान पहुंचेगा।

कार्यकर्ता सम्मेलन...
दशहरा मैदान में पहुंचकर राहुल गांधी कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। माना जा रहा है कि अपने संबोधन में वह कार्यकर्ताओं के अंदर चुनाव से पहले जान फूंकने का काम करेंगे। इस सम्मेलन में 15 हजार कार्यकर्ताओं के शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही है।

इस कार्यक्रम में सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी, प्रदेश की जिला और ग्रामीण कांग्रेस इकाइयों के सभी अध्यक्ष, मंडल, सेक्टर के पदाधिकारी, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवादल के पदाधिकारी हिस्सा लेंगे।

जानकारों की माने तो इस साल के आखिर में मध्यप्रदेश में विधानसभा के चुनाव होने हैं। इसी के मद्देनजर कांग्रेस और भाजपा ने चुनाव प्रचार की रफ्तार पहले के मुकाबले तेज कर दी है। कांग्रेस की मंशा राज्य में पिछले 15 सालों से सत्ता पर काबिज भाजपा को बेदखल करने की है।

वहीं राहुल के दौरे के एक हफ्ते बाद भोपाल के सबसे बड़े मैदान जंबूरी में भाजपा जनसभा को संबोधित करेगी। इस चुनावी अभियान में शिवराज ने 220 तो कमलनाथ और सिंधिया 150 सभाएं कर चुके हैं।

जानकारों की माने तो मध्यप्रदेश में भाजपा और कांग्रेस अब तक मुख्य रूप से केवल सोशल मीडिया पर ही आरोप प्रत्यारोप कर रहे थे, वहीं सोशल मीडिया पर कई प्रकार के वीडियो में नेताओं के नए अवतार दिखा कर भी जनता को अपनी और आकर्षित करने में जुटे थे।

लेकिन राहुल गांधी के इस शो के बाद माना जा रहा है कि भाजपा और कांग्रेस के बीच मुकाबला अब सीधे सड़क पर आ जाएगा, जिसके बाद नेताओं के पास मुख्य हथियार जनता से सीधे मुखातिब होना ही बचेगा। वहीं जानकार सोशल मीडिया को भी कमजोर मानने को तैयार नहीं हैं, उनका कहना है कि इस चुनाव मे सोशल मीडिया का भी काफही प्रभाव तो रहेगा, लेकिन जीत आखिरकार जनता के बीच आने वाले नेता की ही होने की संभावना है।

LIVE: Rahul Gandhi Road Show in bhopal-

करीब 1 बजे राहुल गांधी भोपाल पहुंचे।
विमानतल पर कमलनाथ जी ने तिरंगी सूत की माला पहनाकर उनकी अगवानी की। यहां पर उनकी 21 पंडितो द्वारा मंत्रोचार द्वारा व 11 कन्याओं द्वारा तिलक लगाकर उनकी आरती की गयी।
यहां से लालघाटी रोड शो के लिए रवाना हुए। बस में उनके साथ कमलनाथ,दीपक बाबरिया,ज्योतिरादित्य सिंधिया,दिग्विजय सिंह,सुरेश पचौरी,अजय सिंह,अरुण यादव,विवेक तनखा,कांतिलाल भूरिया,राजमणि पटेल व आरिफ़ अकील भी मौजूद रहे।

करीब 2 बजे लालघाटी से रोड शो शुरू हुआ।

यहां पी चाय किया नाश्ता...
राहुल गांधी रोड शो के दौरान हमीदिया के पास राजू टी स्टाल पर उतरे। काफी देर तक उन्होंने यहां चाय का लुत्फ लिया साथ ही भजिये और पकौड़े भी खाए। इस दौरा उनके साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद रहे।

यहां चली आंख: वहीं चाय की चुस्कियों के बीच एक बार फिर राहुल की आंख चल गई। इस दौरान ये मीडिया की ओर कुछ इशारा कर रहे थे, कि इसी बीच अचानक उनके द्वारा आंख मारना वीडियो में रिकार्ड हो गया। जो चर्चा का विषय बन गया।

करीब 2.30 बजे रोशनपुरा पहुंचे राहुलगांधी।
राहुल गांधी ने किए विश्वकर्मा मन्दिर के दर्शन किए।

करीब 3 बजे रोशनपुरा से रवाना हुए।

करीब 3.30 बजे राहुल की गाडी 1250 पहुंची। PCC में नही रुका काफिला, सीधे दशहरा मैदान के लिए रवाना हुआ।

Ad Block is Banned