दिग्विजय सिंह पर लिखी होती तो बेस्ट सेलर बुक होती

लक्ष्मण सिंह की किताब पर बोले कमलनाथ

 

By: Arun Tiwari

Updated: 20 Jul 2021, 12:55 PM IST

भोपाल : प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोमवार को दिग्विजय सिंह के भाई विधायक लक्ष्मण सिंह की पर्यावरण पर लिखी किताब का विमोचन किया। इस अवसर पर कमलनाथ ने चुटकी लेते हुए कहा कि यदि यह किताब दिग्विजय सिंह पर लिखी होती तो सबसे ज्यादा बिकती। दिग्विजय सिंह की प्रेस कान्फ्रेंस में जब उनसे ये सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यदि आप लोग पढ़ते तो बेस्ट सेलर बुक हो जाती। कमलनाथ ने कहा कि पर्यावरण मेरा पसंदीदा विषय है। मैं खुद पर्यावरण मंत्री रह चुका हूं। इसलिए इसकी अहमियत जानता हूं। कमलनाथ के निवास पर हुए कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सासंद दिग्विजय सिंह भी मौजूद रहे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बक्सवाहा में जंगल की कटाई हो रही है। पर्यावरण के नजरिए से यह चिंताजनक है।

बसपा के 14 पदाधिकारी कांग्रेस में शामिल :
कमलनाथ की मौजूदगी में बसपा के 14 पदाधिकारियों ने कांग्रेस की सदस्यता ली। कांग्रेस नगरीय निकाय के साथ अगले विधानसभा चुनाव चुनाव की तैयारी कर रही है। ग्वालियर-चंबल के बसपा पदाधिकारियों को कांग्रेस में शामिल कर पार्टी ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के कारण इस इलाके में अपनी जमीन नए सिरे से तैयार कर रही है। प्रदेश में बसपा का कमजोर होने का सीधा फायदा कांग्रेस को मिलेगा और भाजपा को कई सीटों पर कांग्रेस से कड़ी टक्कर मिल सकती है।

उपचुनावों पर चर्चा :
कमलनाथ ने कुछ नेताओं से आने वाले चार उपचुनावों को लेकर भी चर्चा की। इस बैठक में वरिष्ठ नेता डॉ गोविंद सिंह, सज्जन सिंह वर्मा और जीतू पटवारी समेत अन्य नेता शामिल हुए। कुछ नेताओं को उपचुनाव वाले क्षेत्रों से भी बुलाया गया था। इस मौके पर टिकट के दावेदारों को लेकर भी चर्चा हुई। कांग्रेस के पैनल में खंडवा से अरुण यादव और पृथ्वीपुर से बृजेंद्र सिंह राठौर के पुत्र का नाम शामिल है। वहीं जोबट से पूर्व विधायक सुलोचना रावत, मुकेश पटेल और युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया के नाम पैनल में शामिल है।

कांग्रेस कमेटी हो सकती है भंग :
इस बैठक से बाहर निकले सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि आने वाले 15 दिनों में संगठन को लेकर होंगे बड़े फैसले होंगे। उपचुनाव में कांग्रेस नेताओं की ड्यूटी तय की जाएगी। मिशन 2023 के लिए ब्लॉक, मंडलम,सेक्टर्स को और छोटा करेंगे, ताकि प्रभावी रूप से जनता तक पहुंच सकें। इसमें हर विंग की जिम्मेदारी तय होगी। वर्मा ने कहा कि यह तय हो चुका है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भंग किया जा रहा है। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि दूसरी पंक्ति के नेताओं के हाथ में कमान सौंपी जानी चाहिए। प्रदेश अध्यक्ष पद के दावेदार क सवाल सज्जन ने कहा कि मैं तीसरी लाइन का नेता हंू और जो हाईकमान का आदेश होगा वो काम करूंगा। लक्ष्मण सिंह ने कहा कि कमलनाथ अगले चुनाव में मध्यप्रदेश में कांग्रेस का मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे। विधायक जयवद्र्धन सिंह ने कहा कि हम सब यही चाहते हैं कि कमलनाथ मध्य प्रदेश में कांग्रेस का नेतृत्व करें। डॉक्टर गोविंद सिंह ने भी लक्ष्मण सिंह की मांग का समर्थन करते हुए कहा कमलनाथ एक अनुभवी नेता हैं और वह हर जिम्मेदारी संभालने के लिए समर्थ हैं।

Arun Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned