Year Ender 2020: कोरोना काल में फिर से रामायण-महाभारत ने दिया सहारा

रामायण के प्रसारण का पुराना दौर याद कर लोगों ने किया एंजाय

By: Hitendra Sharma

Published: 26 Dec 2020, 03:45 PM IST

भोपाल. कोरोना संक्रमण का भयावय दौर जब लम्बे लॉकडाउन के बाद लोग अपने अपने घरों में कैद हो गये तब लोगों एक दम से चार दीवारी में बंद रहकर अवसाद का शिकार बनने लगे। लोगों के पास अपने घर में ही रहना मजबूरी बन गया। तब जरूरत थी एक एसे मनोरंजन की जिससे लोग एंजोय कर सकें और इसकी शुरुआत की भारत सरकार ने देश में लॉकडाउन के साथ ही दूरदर्शन ने एक बार फिर रामायण का प्रसारण शुरु कर दिया।

लोग एक बार फिर पुराने दौर में लौट गये और नई पीढ़ी उस दौर की बातों को सुनकर एंजोय करने लगी। अगर हम बात करें साल 1987, तो देश में सुबह 9 बजे, सडक़ें सुनसान और लोग घरों में कैद....हाथ जोड़े टीवी के सामने बैठे रहते थे और रामायण जैसे ही शुरू होती है, सब शांत और एकटक होकर देखते हैं। दूसरी बार फिर साल 2020, सुबह 9 बजे का समय, सडक़ें सुनसान और लोग फिर से घरों में कैद...। भले ही ये कैद कोरोना वायरस की वजह से हो, लेकिन दूरदर्शन पर ‘रामायण’ का प्रसारण शुरू होने पर लोगों को उस दौर की यादें ताजा हो गईं। करीब 33 साल बाद घरों में फिर से वही नजारे देखने को मिले जो कभी उन दिनों हर घर में नजर आया करते थे। ये समय दूरदर्शन का था और तब रामानंद सागर की ‘रामायण’ और बीआर चोपड़ा की ‘महाभारत’ का लोग बड़ी बेसब्री से इंतजार किया करते थे। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन से जब घरों में लोग बैठे हैं तो सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने दूरदर्शन पर ‘रामायण’ और ‘महाभारत’ का प्रसारण शनिवार से फिर से शुरू किया है। इस निर्णय को लोगों ने बहुत सराहा और ये सोशल मीडिया पर ट्रेंडिंग बन गया।

0_1.jpg

घरों में टीवी पर चली ‘रामायण और महाभारत’
मध्य प्रदेश में भी लोग ‘रामायण और महाभारत’देखने के लिए उत्साहित नजर आते थे। लोगों ने पूरे परिवार के साथ टीवी पर ‘रामायण’ देखी और बच्चों को भी दिखाई। लोगों ने कहा कि सालों बाद फुर्सत के क्षण मिल रहे हैं और ऐसे में फिर से वही दिन जीना अच्छा लग रहा है। बच्चों को ‘रामायण और महाभारत’ के बारे में पता नहीं था, उन्होंने सुना ही था, ऐसे में जब उन्होंने देखा तो उन्हें भी बहुत अच्छा लगा।

सोशल मीडिया पर ट्रेंडिंग
शनिवार को प्रसारण के बाद से ही ट्वीटर पर ‘रामायण’ ट्रेंड होती रही। रामायण के चलते डीडी नेशनल भी ट्रेंड में आ गया। हैशटैग के साथ ही दूरदर्शन टॉप-3 में ट्रेंड करते रहा। सोशल मीडिया पर यूजर्स ने ‘रामायण’ देखते हुए परिवार के साथ वाली फोटोज शेयर की। किसी यूजर ने प्रसारण के लिए पीएम का शुक्रिया किया तो किसी ने टीवी के स्क्रीनशॉट शेयर किए। दूसरी तरफ लोग अब ‘शक्तिमान’ ‘देख भाई देख’, ‘मालगुड़ी डेज’ जैसे पुराने शोज को भी फिर से दिखाए जाने की मांग करते रहे।

ramayan_5945395-m.jpg

रामायण के एपिसोड ने बनाया विश्व रेकॉर्ड
लॉकडाउन में दूरदर्शन पर दिखाए गए धारावाहिक रामायण ने विश्व रेकार्ड बना दिया। दूरदर्शन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इसकी जानकारी देते हुए लिखा, 16 अप्रेल का एपिसोड 7.7 करोड़ दर्शकों के साथ दुनिया का सर्वाधिक देखे जाने वाला धारावाहिक बन गया है। पहले एपिसोड को भी एक करोड़ 70 लाख दर्शकों ने देखा था। गौरतलब है कि सिनेमाघर बंद होने, नए धारावाहिक और फिल्मों की शूटिंग रुकने के बाद पुराने धारावाहिकों का पुन: प्रसारण शुरू हुआ है। पौराणिक धारावाहिकों के प्रसारण से दूरदर्शन की टीआरपी अन्य चैनलों से आगे निकल गई। शनिवार को उत्तर रामायण का अंतिम एपिसोड के बाद रामायण का प्रसारण पूरा हो गया, जबकि महाभारत, अलिफ लैला, बुनियाद, शक्तिमान आदि कई धारावाहिक जारी रहे।

ये था 16 अप्रेल के एपिसोड में
अब लोगों के जेहन में यह सवाल उठ रहा है कि 16 अप्रेल के एपिसोड में ऐसा क्या था, जिसने कीर्तिमान रच दिया। इस दिन लक्ष्मण को शक्तिबाण लगने के बाद के प्रसंगों को बेहद मार्मिक ढंग से दिखाया गया है। इनमें विभीषण के कहने पर हनुमानजी द्वारा वैद्य सुषेण को महल सहित उठा लाना, फिर सुषेण के कहने पर हनुमानजी का संजीवनी बूटी लाने, भरत से मिलने और रावण-मेघनाद के संवाद भी दिखाए गए थे। इस एपिसोड में ही रामचंद्र जी के लक्ष्मण को गोद में लेकर मर्मस्पर्शी गीत भी है, जिसे महान संगीतकार रवींद्र जैन ने अपनी आवाज दी थी।

फिर लोकप्रिय हुए कलाकार
रामायण के पुन: प्रसारण के बाद इसमें काम करने वाले कलाकारों की लोकप्रियता भी फिर बढ़ गई। राम-अरुण गोविल, सीता-दीपिका चिखलिया, लक्ष्मण-सुनील लहरी, रावण-अरविंद त्रिवेदी सहित कई कलाकार ट्विटर हैंडिल पर भी फिर सक्रिय हो गए।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned