Zomato के मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय से खाना नहीं लेने वाले पंडित अमित शुक्ल ने अब कही है बड़ी बात

Zomato के मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय से खाना नहीं लेने वाले पंडित अमित शुक्ल ने अब कही है बड़ी बात

Muneshwar Kumar | Updated: 31 Jul 2019, 04:27:08 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

Zomato: जोमैटो यूजर पंडित अमित शुक्ल ने मुस्लिम ब्वॉय से खाना न लेकर कही है और बेतुकी बात

भोपाल. जोमैटो ( Zomato ) ने कहा कि खाने का धर्म नहीं होता है। लेकिन मध्यप्रदेश के पंडित अमित शुक्ल ने जो ट्वीट किया है, उस पर घमासान मचा हुआ है। क्या पंडित अमित शुक्ल ( amit shukal ) का ट्वीट समाज में कटुता नहीं बढ़ाएगी। लेकिन अमित शुक्ल ने जिल दलील के आधार पर जोमैटो का ऑर्डर कैंसिल किया। उस पर जोमैटो ने भी करारा जवाब दिया है। पंडित अमित शुक्ल के ऐतराज पर सोशल मीडिया पर घमासान मचा हुआ है। जोमैटो विवाद ट्विटर पर टॉप ट्रेंड में है।

 

मध्यप्रदेश के पंडित अमित शुक्ल ने जोमैटो का ऑर्डर इसलिए कैंसिल कर दिया कि उनके घर पर खाना लेकर पहुंचा युवक मुस्लिम था। जोमैटो का ऑर्डर कैंसिल कर रिफंड के लिए उन्होंने तर्क दिया कि सावन चल रहा है और मैंने वेज खाना ऑर्डर किया था। मैं मुस्लिम युवक से डिलीवरी नहीं लूंगा। कृप्या डिलीवरी ब्वॉय बदल दें। जोमैटो ने इससे इनकार किया तो अमित रिफंड की मांग करने लगे।

इसे भी पढ़ें: Mandsaur: साहब, अकेले कैसे करूं कार्रवाई, कोई अधिकारी मदद नहीं कर रहा और बाहर निकल रो पड़े खाद्य अफसर

 

अब विवाद बढ़ा है तो सभी लोग सफाई दे रहे हैं। सोशल मीडिया पर कुछ लोग पंडित अमित शुक्ल को कोस रहे हैं तो कुछ उनके समर्थन में हैं। वहीं जोमैटो के जवाब की भी लोग खूब तारीफ कर रहे हैं। जोमैटो ने अमित शुक्ल को जवाब देते हुए कहा था कि खाने का कोई धर्म नहीं होता है, खाना ही खुद ही एक धर्म है। लेकिन जोमैटो पर कुछ लोग ट्वीट कर यह भी आरोप लगा रहे हैं कि वो धार्मिक आधार पर भेदभाव करती है।

इसे भी पढ़ें: BJP: मध्यप्रदेश में शुरू हुआ कैंपेन, हमारी भूल कमल का फूल, भाजपा ने चुप्पी साधी

 

इंडिया के कल्चर को समझना होगा
जोमैटो के ऑर्डर को कैंसिल करने वाले ग्राहक पंडित अमित शुक्ल ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि इंडिया में काम करना है तो जोमैटो को यहां का कल्चर समझना होगा। मैंने ये सब पब्लिसिटी के लिए नहीं किया है। अमित शुक्ल ने कहा कि कौन खाना देगा, ये मुझे चुनने का हक है। उन्होंने कहा कि सावन का व्रत था इसलिए खाना मंगाया था। हमारी धार्मिक च्वाइस पर कोई सवाल नहीं उठा सकता है।

 

अमित ने ये किया था ट्वीट
दरअसल, पंडित अमित शुक्ल नाम के ग्राहक ने ट्वीट किया था कि मैंने अभी तुरंत जोमैटो पर दिया अपना ऑर्डर कैंसिल कर दिया है, क्योंकि वो एक गैर हिंदू से मेरा खाना भेजा था। जोमैटो से जब इस बारे में बात की थी, वह डिलीवरी ब्वॉय बदलने से मना कर दिया। उसके बाद मैंने जोमैटो से कहा कि आप मुझ पर इस तरह से खाना लेने के लिए दबाव नहीं बना सकते हैं और मुझे रिफंड की कोई जरूरत नहीं हैं।

इसे भी पढ़ें: Zomato ने मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय से भिजवाया खाना, हिंदू ग्राहक ने धर्म पूछ लौटाया तो जोमैटो ने सिखाया सबक

 

कायम हैं अमित
हालांकि जब यह मामला तुल पकड़ा तो अमित शुक्ल खुद भी सामने आएं। लेकिन अमित शुक्ल अपनी बातों पर कायम हैं। उन्होंने यह भी कहा है कि जोमैटो को यह कैटोगरॉइज करना चाहिए कि उन्हें खाना पहुंचाने कौना जाएगा। अमित के सोशल मीडिया प्रोफाइल पर जाएंगे तो आपको पता चलेगा कि कितने एक्टिव हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned