ओडिशा विधानसभा की डिस्पेंसरी में आया था कोरोना पॉजिटिव, पूरा परिसर होगा विसंक्रमित, सत्र की जगह बदली

बताया गया है कि उक्त मरीज 16 मार्च को विधानसभा की डिस्पेंसरी में चिकित्सीय परामर्श को किसी अधिकारी के साथ आया था...

By: Prateek

Published: 27 Mar 2020, 09:47 PM IST

(भुवनेश्वर): ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में तीसरा कोरोना पॉजिटिव केस पाए जाने से लोगों में दहशत का माहौल है। कोरोना की चपेट में आए व्यक्ति को कैपिटल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसे राजधानी के एक प्राइवेट अस्पताल से रैफर किया गया था। अस्पताल को सील करके विसंक्रमित किया जा रहा है। वहां के स्टाफ को क्वारेंटाइन में रहने को कहा गया है। साठ साल का कोरोना से संक्रमित यह रोगी दिल्ली से भुवनेश्वर यात्रा करके आया था।


विधानसभा की डिस्पेंसरी में दिखा गया मरीज

बताया गया है कि उक्त मरीज 16 मार्च को विधानसभा की डिस्पेंसरी में चिकित्सीय परामर्श को किसी अधिकारी के साथ आया था। उसका इलाज करने वाले चिकित्सक डॉ.ललित बेहरा को शासन ने निलंबित कर दिया गया। हालांकि उनके सस्पेंशन लेटर में कारण का उल्लेख नहीं किया गया है पर समझा जाता है कि डाक्टर पर बाहरी व्यक्ति को चिकित्सीय परामर्श देने का आरोप है। केस हिस्ट्री की जानकारी मिलते ही विधानसभा अध्यक्ष सूर्य नारायण पात्रा ने विधानसभा भवन विसंक्रमित करने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही डिस्पेंसरी के सभी स्टाफ को क्वारेंटाइन में भेजने का आदेश जारी किया गया है। इसी के साथ पात्रा ने तीस मार्च को व्यय का बजट पास करने के लिए आहूत विधानसभा सत्र लोक सेवा भवन के कन्वेंशन हाल में होगा। कहा जा रहा है कि 147 सदस्यों के सदन में 74 विधायकों के आने से भी प्रस्ताव पास किए जा सकते हैं। यह बैठक कोरोना इम्पैक्ट के दौरान खर्चे के बिल पास करने के लिहाज से महत्वपूर्ण बताई जा रही है।

 

इधर कोरोना वायरस को रोकने के प्रयास में लगी ओडिशा सरकार ने शुक्रवार को 22 सौ करोड़ रुपए के राहत पैकेज की घोषणा की है। इस पैकेज से 94 लाख परिवारों को लाभ मिलेगा। नवीन पटनायक ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर लॉकडाउन से गरीब लोगों की जीविका प्रभावित हुई है। खाद्य सुरक्षा योजना में तीन महीने का एडवांस राशन मुहैया कराया गया है। खाद्य सुरक्षा के अंतर्गत आने वाले 94 लाख लोगों को एक हजार रुपए की सहायता राशि दी जाएगी। इसके लिए सरकार 940 करोड़ रुपया खर्च करेगी। इसके साथ ही सामाजिक सुरक्षा में विभिन्न भत्ता पाने वाले 48 लाख परिवार को चार महीने का एडवांस भत्ता दिया जाएगा। इसके लिए सरकार 932 करोड़ रुपया खर्च करेगी। बुजुर्ग, विधवा व अन्य के लिए चार महीने का एडवांस भत्ता दिया गया है। ओडिशा के 22 लाख निर्माण श्रमिकों के लिए भी सरकार ने आर्थिक मदद की है। सभी निर्माण मजदूरों के लिए राज्य सरकार 330 करोड़ रुपया खर्च करेगी। मासिक भत्ता 1500 रुपया होगा।

Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned