संबलपुर में आईआईएम के लिए केंद्र ने मंज़ूर किए 401.94 करोड़

संबलपुर में आईआईएम के लिए केंद्र ने मंज़ूर किए 401.94 करोड़

Prateek Saini | Publish: Sep, 06 2018 04:18:37 PM (IST) Sambalpur, Odisha, India

संबलपुर में इसके लिए नागरिकों ने लंबी लड़ाई लड़ी है...

(भुवनेश्वर): पश्चिम ओडिशा के संबलपुर में आईआईएम (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट)कैंपस की स्थापना के लिए लंबे समय से संघर्ष कर रहे स्थानीय निवासियों के लिए राहत देने वाली खबर है। केंद्र की मोदी सरकार ने इस ओर बडा कदम बढाया है। संबलपुर में आईआईएम की स्थापना और संचालन के लिए 401.94 करोड़ रूपया मंज़ूर कर सरकार ने विशेष सौगात दी है। इससे लोगों के सपनों को पर लग गए है।


कैबिनेट मीटिंग में लिया गया फैसला

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुयी कैबिनेट मीटिंग में यह निर्णय लिया गया। संबलपुर में इसके लिए नागरिकों ने लंबी लड़ाई लड़ी है। यह फैसला आने के बाद से संबलपुर में खुशी की लहर दौड गई है। कैंपस का संचालन शुरू होने के बाद आईआईएम से मैनेजमेंट की पढाई करने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थी संबलपुर में रहकर भी अपने सपनों को आकार दे सकेंगे। अभी तक यह इंस्टिट्यूट 2015 से सिलिकॉन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में अस्थायी रूप से चल रहा है।


2021 तक तैयार होगा भवन

आईआईएम का निजी भवन वर्ष 2021 तक तैयार होगा। इसका क्षेत्रफल 60,384 वर्गमीटर होगा जहां पर 600 छात्र-छात्राएं पढ़ सकेंगे। एक छात्र पर कुल मिलाकर 5 लाख प्रतिवर्ष खर्च आयेगा। बाकि खर्चे इंस्टिट्यूट के आंतरिक खर्च से आएगा। ओडिशा सरकार ने 237 एकड़ भूमि निर्माण के लिए बसंतपुर में एलॉट की है। वर्तमान में 20 आईआईएम देश में हैंं।

 

केंद्र का एक और बडा कदम

इधर डिजिटल दौर में लोगों की निजता पर होने वाले प्रहार को रोकने वाले निजी डाटा सुरक्षा विधेयक को लेकर केंद्र सरकार ने बडा निर्णय लिया है। सरकार की ओर से निजी डाटा सुरक्षा विधेयक के मसौदे पर जन-सुझाव मंगाने की समय-सीमा 10 सितंबर से बढ़ाकर 30 सितंबर 2018 कर दी गई है। केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं दूरसंचार मंत्रालय की ओर से बुधवार को जारी किए गए नोटिस में इस बात की जानकारी दी गई।


यह भी पढे: डाटा सुरक्षा विधेयक पर जन-सुझाव मांगने की सीमय सीमा बढ़ी अब 30 सितंबर तक बढ़ी

Ad Block is Banned