ओडिशा में बारिश से कई क्षेत्र जलमग्न, 15 जिलों को अलर्ट जारी

ओडिशा में बारिश से कई क्षेत्र जलमग्न, 15 जिलों को अलर्ट जारी
odisha rain

| Publish: Jul, 16 2018 02:49:33 PM (IST) Bhubaneswar, Odisha, India

भुवनेश्वर, कटक, पुरी, रायगढ़ा और कालाहांडी में बारिश के कारण स्कूलों में छुट्टी कर दी गई।

(महेश शर्मा की रिपोर्ट)
भुवनेश्वर। बीते दो दिनों से हो रही लगातार बारिश से ओडिशा में जनजीवन प्रभावित हुआ है। भुवनेश्वर, कटक, पुरी, रायगढ़ा और कालाहांडी में बारिश के कारण स्कूलों में छुट्टी कर दी गई। जगह-जगह जलभराव सेे लोगों का घर से निकलना दूभर हो गया है। मौसम विभाग ने 13 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी दी है। शासन ने भी आपदा प्रबंधन समितियों को अलर्ट कर दिया है। नगर निगमों से डीवाटरिंग पंप दुरुस्त रखते हुए जरूरत पडऩे पर लगाने को कहा गया है।

 

नगाबली में व्यक्ति लापता

 

कालाहांडी के लांजीगढ़ ब्लाक में तो इस कदर जलभराव है कि 15 गांव बाहरी क्षेत्रों से कट से गए हैं। नगाबली नदी में एक व्यक्ति के डूबने की आशंका है। उसका पता नहीं चल पा रहा है। कालाहांडी जिला प्रशासन ने राहत व पुनर्वासन के कार्य शुरू कर दिए हैं। जल भराव वाले इलाकों में रहने वालों से प्रशासन ने सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा है। रायगढ़ा में कहरकाट बारिश से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। बिसमकतक ब्लाक के गांव जलमग्न हैं। पाइकदकुलगुडा व थुआपडी ग्राम पंचायत की हालत सबसे खराब हो चुकी है। यहां के गांव के लोग फंसे है। सेरमा क्षेत्र गुनपुर, गुमुडा की पुलिया पूरी तरह डूब चुकी हैं। सड़क व कच्चे रास्ते नहीं दिखायी पड़ रहे हैं। गंजम जिले में लगातार बारिश से आस्का व कबिसुर्यनगर क्षेत्र जलमग्न है।

 

24 घंटे में यहां हो सकती है कहरकाट बारिश

 

मौसम विभाग ने खोरदा, पुरी, नयागढ़, कटक, ढेंकानाल, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, जगतसिंह पुर, भद्रक, गंजाम, कंधमाल, नवरंगपुर,कोरापुट, कालाहांडी मलकानगिरि में भारी बारिश की भविष्यवाणी करते हुए अलर्ट किया है। मौसम विभाग ने बताया कि अगले 24 घंटे में तटीय जिलों के ज्यादातर हिस्सों में बारिश का अनुमान है। विभाग का यह भी कहना है कि दक्षिण ओडिशा के रायगढ़ व कोरापुट में तेज बारिश होने की संभावना है। उत्तर ओडिशा के एक या दो स्थानों पर बारिश होगी। इसके साथ ही 40 से 50 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है। समुद्री क्षेत्र की खराब स्थिति के कारण मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned