इधर राज्य में दिन भर जारी रहे बारिश व तूफान, उधर कटक में वज्रपात लील गया चार लोगों की जिंदगी

इधर राज्य में दिन भर जारी रहे बारिश व तूफान, उधर कटक में वज्रपात लील गया चार लोगों की जिंदगी

Prateek Saini | Publish: Aug, 12 2018 08:12:22 PM (IST) Bhubaneswar, Odisha, India

दूसरी ओर उत्तरी ओडिशा और दक्षिण पश्चिम ओडिशा के जिलों के तटीय इलाकों में मौसम खराब रहा...

(पत्रिका ब्यूरो,भुवनेश्वर): ओडिशा में एक बार फिर झमाझम बारिश और आंधी तूफान शुरू हो गया है। राज्य के 14 जिलों में बारिश से जनजीवन प्रभावित रहा। राज्य के विभिन्न इलाकों में देर शाम तक बारिश होती रही। मौसम विभाग के क्षेत्रीय कार्यालय के अनुसार यह सिलसिला सोमवार को भी जारी रह सकता है। इधर कटक में वज्रपात से चार लोगों की मौत हो गयी जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल है।

 

 

वज्रपात के कारण तिगिरिया नामक गांव में धान के खेत पर काम कर रहे तीन किसानों की मौत हो गयी। ये किसान बुआई कर रहे थे। मृतकों के नाम हाटमल के कबी बल, बिंधामिना के संजय बेहरा और श्यामपुर के निला बेहरा हैं। अटगढ़ के सामुदायिक स्वास्थ केंद्र में घायल व्यक्ति को भर्ती कराया गया। जगतसिंह पुर के बाथल गांव के दुष्मंत राउत की उस समय वज्रपात से मौत हो गयी जब पशुओं को लेकर लौट रहा था। मौसम विभाग ने 14 जिलों में बारिश और वज्रपात की संभावना व्यक्त की है।


खोरदा, भुवनेश्वर, कटक, जगतसिंहपुर, पारादीप, भद्रक, बालासोर, मयुरभंज, गंजाम, गजपति, पुरी, रायगढ़ा, नयागढ़, कंधमाल, जाजपुर व केंद्रपाड़ा में जमकर बारिश हुई। तूफान, बारिश के साथ ही बिजली कड़कने व गिरने की भी घटनाएं प्रकाश में आई हैं। रायगढ़ मे मिट्टी का तटबंध टूटने से पानी चारो ओर बहने लगे। रविवार को 2.15 बजे से 6.15 बजे शाम तक मौसम बारिश वाला रहा।

 

मछुआरों को समुद्र में जाने से रोका


दूसरी ओर उत्तरी ओडिशा और दक्षिण पश्चिम ओडिशा के जिलों के तटीय इलाकों में मौसम खराब रहा। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले 24 घंटों तक मौसम खराब रहेगा। तटीय इलाकों में इसका असर ज्यादा दिखायी देगा। मछुआरों को चेतावनी दी गयी है कि इस मौसम में वे समुद्र में न जाएं।

 

यह भी पढे: केरल: बारिश से प्रभावित लोगों के लिए राजनाथ सिंह ने 100 करोड़ के राहत पैकेज का किया ऐलान

Ad Block is Banned