माओवादियों ने मुखबिरी के संदेह में ग्रामीण को गोली मारी

माओवादियों ने मुखबिरी के संदेह में ग्रामीण को गोली मारी
naxalist

| Publish: Jun, 11 2018 03:09:45 PM (IST) | Updated: Jun, 11 2018 03:09:46 PM (IST) Odisha, India

माओवादियों ने ओडिशा के मलकानगिरि जिले में पुलिस मुखबिरी के संदेह में एक ग्रामीण की रविवार देर रात उसके घर में घुसकर गोली मार दी।

महेश शर्मा की रिपोर्ट...

भुवनेश्वर। माओवादियों ने ओडिशा के मलकानगिरि जिले में पुलिस मुखबिरी के संदेह में एक ग्रामीण की रविवार देर रात उसके घर में घुसकर गोली मार दी। गांव वालों की मदद से उसे ब्लाक के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। पुलिस के अनुसार पडिया थाना क्षेत्र के सिलाकोटा गांव में मंगड़ू बंजामी (45)पर देर रात माओवादियों ने गांव में घुसकर हमला कर दिया। पुलिस के अनुसार उसे 9 एमएम पिस्टल से गोली मारी गई। माओवादियों की संख्या आठ थी। रात 11.30 बजे घटना को अंजाम देने के बाद माओवादी मेतागुडा, रामागुडा के जंगलों की ओर जाते देखे गए। माओवादियों को खबर मिली थी कि मंगड़ू बंजामी गांव वालों को माओवादियों के खिलाफ भड़का रहा है। समझा जाता है कि इसके बाद माओवादियों ने इस घटना को अंजाम दिया। उनका इरादा माओवादियों की खिलाफत करने वालों को चेतावनी भी देना था।

 

कई जिले प्रभावित


ओडिशा का मलकानगिरी जिला माओवादियों से अत्यधिक प्रभावित है। आंध्र प्रदेश के बॉर्डर पर होने के कारण माओवादियों को वारदात के बाद छिपने में मदद मिल जाती है। हालांकि हाल ही में माओवादियों के खिलाफ सुरक्षा बलों का दबाव बढ़ा है। हाल ही के समय में सुरक्षा बलों ने कई माओवादियों को मुठभेड़ में मार गिराया है। इसके बावजूद माओवादी मौका मिलते ही हमले करने से नहीं चूकते। ओडिशा की सीमा छत्तीसगढ तथा आंध्र प्रदेश से मिलती हैं। इस वजह से मलकानगिरी के अलावा ओडिशा के गजपति, कंधमाल तथा बलांगीर जिले भी माओवाद से बुरी तरह प्रभावित हैं।

 

सुरक्षा बलों का अभियान


ओडिशा के इन जिलों में सुरक्षा बल निरंतर माओवादियों के खिलाफ निरंतर अभियान में जुटे रहे हैं। हाल ही में सुरक्षा बलों ने कुछ बड़े ऑपरेशन में माओवादियों के कई ठिकानों को ध्वस्त भी किया है। इसमें कई माओवादी मारे भी गए और बड़ी संख्या में हथियार और गोलाबारुद भी बरामद किया गया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned