ओडिशा में बड़ा ट्रेन हादसा, कोहरे के चलते बेपटरी हुए डिब्बे, दर्जनों घायल

Odisha News: कोहरे की वजह (Weather News) से जहां हर तरह की परिवहन सेवा पर असर पड़ा है वहीं कई (Train Accident) दुर्घटनाएं (Mumbai-Bhubaneswar Superfast Lokmanya Tilak Express) भी (Cuttack Train Accident) हो रही है...

कटक: मुंबई-भुवनेश्वर सुपरफास्ट लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस गुरुवार सुबह कटक रेलवे स्टेशन से थोड़ी दूर जाकर पटरी से उतर गई। मिली जानकारी के अनुसार घने कोहरे के कारण निरगुंडी रेलवे स्टेशन के पास यह ट्रेन मालगाड़ी के डिब्बे से टकरा गई। इससे ट्रेन के आठ डिब्बे बेपटरी हो गए। रेलवे का कहना है कि 20 यात्री घायल हुए है वहीं स्थानीय सूत्रों का दावा है कि करीब 40 लोगों को चोट आई है। पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों को बस और एंबुलेंस से कटक के एससीबी मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में भर्ती कराया गया। रेलवे अधिकारियों के अनुसार पांच ट्रेनों का रूट बदला गया।

 

इन ट्रेनों को किया गया डायवर्ट...

ओडिशा में बड़ा ट्रेन हादसा, कोहरे के चलते बेपटरी हुए डिब्बे, दर्जनों घायल

जानकारी के अनुसार सुबह करीब सात बजे हुई इस घटना से यात्रियों में हायतौबा मच गई। हादसे के बाद 12880 भुवनेश्वर-एलटीटी एक्सप्रेस को नौराज की ओर से मोड़ा गया। 58132 पुरी-राउरकेला पैसेंजर भी नौराज से, 18426 दुर्ग-पुरी एक्सप्रेस भी नौराज, 12831 धनबाद-भुवनेश्वर राज्यरानी एक्सप्रेस भी नौराज, 68413 तलचर-पुरी-मेमू को भी नौराज से मोडकर गंतव्य की तरफ भेजा गया।


यह हुए गंभीर घायल...

गंभीर रूप से घायलों की पहचान जितेंद्र पाढ़ी, पुष्पांजलि नायक, सरत बेहरा और अश्विनी कुमार लेंका तथा एक नाम पता नहीं चल सका। रेलवे ने हेल्प लाइन नंबर 0671-1072 कटक, 0674-1072 खोरदा रोड भुवनेश्वर, यही नंबर पुरी के लिए भी जारी किया गया है।

ओडिशा की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: इनकी कहानी भी है 'छपाक' जैसी, फिल्म देखने के बाद बयां किया अपना संघर्ष

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned