भुवनेश्वर: एयरपोर्ट की निर्माणाधीन छत गिरने से मजदूर की मौत, ठेकेदार और इंजीनियर हिरासत में

Odisha News: एयरपोर्ट (Bhubaneswar Airport) पर (Biju Patnaik International Airport) यह निर्माण प्रोजेक्ट 56 करोड़ का था जिसमें तीन करोड़ का काम पूरा किया जा चुका था...

(भुवनेश्वर): भुवनेश्वर के बीजू पटनायक इंटरनेशनल एयरपोर्ट निर्माणाधीन दीवार व छत ढहने से शुक्रवार देर रात एक श्रमिक की मौत हो गई जबकि एक व्यक्ति घायल हो गया है। यह हिस्सा एयरपोर्ट के टर्मनिल वन और टू के बीच का है। पुलिस के अनुसार ठेकेदार और एक इंजीनियर को हिरासत में ले लिया गया है। इनसे पूछताछ की जा रही है। एयरपोर्ट पर यह निर्माण प्रोजेक्ट 56 करोड़ का था जिसमें तीन करोड़ का काम पूरा किया जा चुका था। जो छत ढही है उस पर 20 लाख रुपया खर्च किया गया था।

 

यह भी पढ़ें: आतंकियों के साथ पकड़े जाने पर बोला DSP- ''आपने पूरा खेल बिगाड़ दिया'', पूछताछ में हुए बड़े खुलासे

एयरपोर्ट निदेशक वीवी राव ने बताया कि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने जांच के लिए तकनीकी समिति गठित की है। यह समिति जांच करके रिपोर्ट सौंपेगी। जांच समिति शीघ्र ही घटनास्थल का मौका मुआयना करेगी। मृतक और घायल को मुआवजे की रकम को लेकर भी अधिकारियों में बातचीत की जारी है। कांग्रेस विधायक सुरेश राउत ने 20 लाख रुपया मुआवजा की मांग की है। बीजेपी के प्रवक्ता गोलक महापात्रा ने घटना की सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा है कि बीजेडी के लोग निर्माण में हुए भ्रष्टाचार में मिले है। असली आरोपी को बीजेडी सरकार बचा रही है। बीजेडी प्रवक्ता राज्यसभा सदस्य सस्मित पात्रा ने सघन जांच की मांग की। हादसे में जान गंवाने वाले का नाम अन्तर्यामी गुरू है। वह कटक जिले के बड़म्बा-नरसिंहपुर इलाके के रहने वाला था। घायल मजदूर का नाम नवकिशोर स्वाई बताया गया है। उसे स्थानीय कैपिटल अस्पाताल में भर्ती कराया गया है।

 

यह भी पढ़ें: खानाबदोश ने पुलिस को चौंकाया, अंग्रेजी में लिखी शिकायत, पिता है पूर्व DSP और खुद...


पुलिस के अनुसार निर्माण कार्य संभाल रहे ठेकेदार दिलीप खटई और इंजीनियर हिरासत में हैं। रात में भी निर्माण कार्य जारी था। बताया जाता है कि दस मजदूर काम कर रहे थे। घटना का पता चलते ही एनडीआरएफ, सीआईएसएफ, ओड्राफ, अग्निशमन विभाग के कर्मचारी पहुंचे और दोनों मजदूरों को निकालकर हॉस्पिटल पहुंचाया।

ओडिशा की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: एमबीए-पीएचडी कर 'बेलन-रोटी' फूड स्टाल से आत्मनिर्भरता के गुर सिखा रहीं सहेलियां

Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned