पूर्व विधायक BJD से निष्कासित, मां-बेटी की हत्या का है आरोप

Odisha News: पुलिस अधीक्षक के अनुसार इस मामले 700 लोगों से पूछताछ की गई। कोर्ट जे नार्को टेस्ट कराने का भी अनुरोध किया जाएगा...

भुवनेश्वर: दोहरे हत्याकांड के मुख्य आरोपी पूर्व विधायक अनूप साय को बीजू जनता दल से निष्कासित कर दिया गया है। उन्हें वेयर हाउसिंग बोर्ड की चेयरमैन पद से भी हटाया गया है। छत्तीसगढ़ पुलिस का दावा है कि एक महिला और उसकी बेटी की हत्या में पूर्व विधायक का ही हाथ है। पुलिस उन्हें गुरुवार को गिरफ्तार कर छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिला ले गई। जहां उसे अदालत में पेश किया गया। कोर्ट ने आरोपी की बेल को खारिज करते हुए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।


रायगढ़ के पुलिस अधीक्षक सन्तोष सिंह ने बताया कि अनूप साय के एक तलाक़शुदा महिला से अवैध संबंध थे। महिला की 14 साल की बेटी भी थी। साय ने सुन्दरपडा एरिया में उनके लिए फ्लैट भी लिया। यहां दोनों मां—बेटी 2011 से 2016 तक रहीं भी। महिला पूर्व विधायक पर शादी का दबाव डाल रही थी। तभी अनूप साय ने उसकी हत्या की साजिश रची। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हत्या के एक दिन पहले ये लोग झरसुगुड़ा के एक होटल में रुके। वहां से अनूप साय उन्हें रायगढ़ यह कहकर ले जाने लगा कि मंदिर में शादी कर लेंगे। बाद में दोनों की हत्या करके कर से रौंद डाला।


पुलिस अधीक्षक के अनुसार इस मामले 700 लोगों से पूछताछ की गई। कोर्ट जे नार्को टेस्ट कराने का भी अनुरोध किया जाएगा। फुट प्रिंट और डीएनए संरक्षित है। इस केस की छानबीन के लिए 6 राज्यों ओडिशा, वेस्टबंगाल, बिहार, झारखण्ड, महाराष्ट्र व यूपी पुलिस टीम भेजी गई थी।

Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned