Jagannath Rath Yatra 2020 आयोजन को लेकर केंद्रीय राज्यमंत्री ने CM को पत्र लिखा

पत्र में षाड़ंगी ने लिखा है कि रथयात्रा ओडिशा को विश्व में सांस्कृतिक पहचान दिलाती (Jagannath Rath Yatra 2020) हैं...

By: Prateek

Published: 18 Apr 2020, 11:27 PM IST

(भुवनेश्वर): केंद्रीय राज्यमंत्री प्रताप षाड़ंगी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को पत्र लिखकर जगन्नाथ रथयात्रा पर शीघ्र निर्णय लेने का अनुरोध किया है। कोरोना के चलते लॉकडाउन को लेकर रथयात्रा के आयोजन पर संशय है। इसी 26 अप्रैल से रथ निर्माण, चंदनयात्रा जैसी परंपराएं शुरू हो जाएंगी। सोशल डिस्टेंसिंग लागू रहने के दौरान भक्त पुरी पहुंच भी पाएंगे या नहीं इस पर भी संशय है। पत्र में षाड़ंगी ने लिखा है कि रथयात्रा ओडिशा को विश्व में सांस्कृतिक पहचान दिलाती हैं। हालांकि राज्यमंत्री कोविड-19 के नियंत्रण और प्रबंधन पर ओडिशा सरकार की तारीफ भी की है। पर वह चाहते हैं कि रथयात्रा पर भी सरकार का निर्णय जल्दी ही जनता के बीच आए। रथयात्रा 23 जून से शुरू होगी।

 

उनका यह भी सुझाव है कि रथयात्रा के विषय में श्रीजगन्नाथ मंदिर प्रशासन, प्रबंधन समिति, जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद, महाप्रभु जगन्नाथ के प्रधान सेवक गजपति महाराज और मुक्ति मंडप से पुरोहितों से विचार विमर्श करके निर्णय लिया जाना चाहिए।


यहां पर उल्लेखनीय है कि गजपति महाराज दिव्यसिंह देव ने रथयात्रा आयोजन को लेकर चीफ सेक्रेटरी असित त्रिपाठी को पत्र लिखा है। गजपति महाराज ने भी श्रीमंदिर के मुख्य प्रशासक कृष्णकुमार और पुरी कलक्टर बलवंत सिंह को भी लिखा है। अक्षय तृतीया के दिन 26 अप्रैल से महाप्रभु जगन्नाथ के रथ का निर्माण शुरू होना है। इसके बाद 21 दिन चंदनयात्रा आयोजित होनी है। सेवायतों का कहना है कि वे सारी परंपराएं पूरी करेंगे। इस दौरान लॉकडाउन का पालन किया जाएगा। भक्तों की मौजूदगी के बिना भी परंपराएं पूरी की जाएंगी।

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned