इस प्रसिद्ध लैब पर स्वास्थ्य विभाग ने मारा छापा, जुर्माना लगाने की दी चेतावनी

  • कर्मचारी लैब के 2019 के रजिस्ट्रेशन के पेपर नहीं दिखा पाये
  • एसीएमओ ने इन्हें 10 तारीख का समय देते हुए सभी सैम्पल लेने से मना कर दिया है

By: Rahul Chauhan

Updated: 20 Apr 2019, 07:06 PM IST

बिजनौर। जिला स्वास्थ्य विभाग की एसीएमओ की टीम ने लाल लैब पैथलॉजी पर छापा मारा। इस दौरान यहां काम कर रहे कर्मचारी लैब के 2019 के रजिस्ट्रेशन के पेपर नहीं दिखा पाये। एसीएमओ ने इन्हें 10 तारीख का समय देते हुए सभी सैम्पल लेने से मना कर दिया है और रजिस्ट्रेशन न होने पर 50 हज़ार का जुर्माना लगाने की भी चेतावनी दी है।

यह भी पढ़ें : युवाओं में इस खतरनाक नशे की लत डालने वाले गैंग का पर्दाफाश

इस बाबत एसीएमओ रोहताश सिंह ने बताया कि बहुत दिन से लैब पैथोलॉजी की शिकायत मिल रही थी कि बिना रजिस्ट्रेशन के लाल लैब पैथलॉजी पर सभी तरह के टेस्ट किये जा रहे हैं। इन्होंने आसपास दूर दराज इलाको में अपने कलेक्शन सेंटर भी खोल रखे हैं। वो अवैध रूप से चला रखे हैं। इनके पैथोलॉजी लैब का 2019 का रजिस्ट्रेशन भी नहीं है।

यह भी पढ़ें : मोटी फीस वसूलने वाले इन स्कूलों पर लगा लाखों का जुर्माना, 24 घंटे का मिला अल्टीमेटम

एसीएमओ ने बताया कि इस लैब में कोई डॉक्टर भी नहीं है। यहाँ 3 कर्मचारी हैं जिन्होंने बताया कि वो ब्लड लेकर उसका सैम्पल मेरठ भेजते हैं। छापे के दौरान इनके पास से कोई लैब के कागजात भी नहीं मिला है। इनको सैम्पल भेजने के लिये मना कर दिया गया है। अगर 10 मई तक ये लैब के रजिस्ट्रेशन के पेपर लेकर सीएमओ कार्यलय नहीं पहुंचे तो इन पर 50 हज़ार का जुर्माना और अन्य सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned