लॉकडाउन से परेशान लोगों को राहत पहुंचाने के लिए प्रशासन ने लिया बड़ा फैसला, सभी तरफ हो रही तारीफ

  • लोगों को बाजार जाने की नहीं है जरूरत, घर पर ही मिलेगा जरूरी सामान

 

बिजनौर. 21 दिन के लॉक डाउन को लेकर जहां जनता अपने घरों में कैद है। लिहाजा, जरूरी सामान को लेकर जनता की चिंता जायज बढ़ती जा रही थी। इसी को देखते हुए बिजनौर के डीएम ने लोगों को घर पर ही जरारू सामग्री पहुंचाने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन से पहले ही देश के प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में संबोधन के दौरान जनता से अपील करते हुए कहा था कि वह अपने घरों से न निकले। उनके जीवन से संबंधित जो भी जरूरी सामान और दवाएं हैं। वह प्रशासन कीओर से लोगों को घर पर ही उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके लिए प्रशासन व्यवस्था बना रहा है। इसी को लेकर बिजनौर में डीएम ने प्रेस वार्ता में लॉकडाउन के समय सभी जरूरी सामानों को नागरिकों के पास प्रशासन की ओर से पहुंचाने का ऐलान किया।

यह भी पढ़ें- कोरोना से लड़ रहे लोगों की मदद के लिए मैदान में इस तरह उतरे पुलिस के जवान

डीएम रमाकांत पांडे ने बताया कि जनपद बिजनौर में सभी नागरिकों के खाने-पीने के अलावा सभी जरूरी सामानों की आपूर्ति बहाल रखने के लिए समुचित व्यवस्था की जाएगी, ताकि किसी भी तरीके से खाद्यान्न की कोई भी किल्लत पैदा न हो। उन्होंने कहा कि लोग घरों से न निकले। इसके लिए उचित व्यवस्था बनाई गई है। इस व्यवस्था के तहत सभी के घरों पर एलपीजी का सिलेंडर लगातार पहुंचता रहेगा । साथ ही खाद्यान्न संबंधित कई गाड़ियों को लगाया गया है, जो मोहल्ले में लोगों को सम्मान देने का काम करेंगे । साथ ही साथ विशाल मेगा मार्ट, ईजीडे और अन्य बड़े सुपर मार्केट के प्रबंधकों से बातचीत कर सामानों को घरों में मुहैया कराने की रणनीति बनाई गई है। साथ ही मोहल्ले में खुली किराना की दुकान भी खुली रहेंगी।

यह भी पढ़ें: कोरोना से लड़ रहे लोगों की मदद के लिए मैदान में इस तरह उतरे पुलिस के जवान

वहीं, गांव की किराना की दुकानें भी खुली रहेंगी और प्रशासन द्वारा खाद्यान्न की व्यवस्था कराई जाती रहेगी। साग सब्जी की किसी तरीके से आपूर्ति प्रभावित न हो इसके लिए सब्जी मंडी में ठेले के माध्यम से सब्जियों को मोहल्ले में भिजवाया जाएगा। मेडिकल की सभी सुविधाओं को चालू रखते हुए मेडिकल स्टोर को खोला जा रहा है। साथ ही साथ लोग बचाव के लिए 1 मीटर की दूरी पर खड़े होकर मेडिकल स्टोर से सभी व जरूरी दवाइयां खरीद सकते हैं, जिन्हें उनकी जरूरत है। इसी को देखते हुए दूध की डेरिया भी खुली रहेंगी, जहां पर लोग कम संख्या में पहुंचकर नियमों का पालन करते हुए दूध, क्रीम, मक्खन और आदि भी खरीद सकते हैं। खाद्यान्न की कालाबाजारी करने वाले सभी व्यक्तियों पर प्रशासन की नजर है।अगर किसी के द्वारा खाद्यान्न की कालाबाजारी की गई तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी ।साथ ही कोई भी होम डिलीवरी में किसी भी उपभोक्ता को कोई अलग से चार्ज नहीं देना है। इसके लिए सभी को दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं।

Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned