भाजपा नेता का दावा गोरखपुर और फूलपुर की तरह इस सीट पर नहीं हारेगी पार्टी

यह सीट भाजपा के लोकप्रिय एवं कद्दावर नेता के निधन के बाद खाली हुई है। जिस पर उपचुनाव होना है।

By:

Updated: 15 Mar 2018, 08:00 PM IST

बिजनौर। उत्तर प्रदेश में बुधवार को आए दो लोकसभा सीटों के नतीजों से जहां सपा-बसपा नेताओं में उत्साह का माहौल है तो वहीं दूसरी ओर भाजपा नेता भी हार के बाद अपना-अपना गणित लगाने में जुटे हैं।

यह भी पढ़ें- मायावती के खासमखास बसपा नेता के यहां से पुलिस को मिले कई हथियार, कश्मीर से जुड़े हैं तार

साथ ही वह बिजनौर जिले की नूरपुर सीट पर भाजपा विधायक लोकेंद्र चौहान के निधन के बाद होने वाले उपचुनाव की चर्चा भी गाहे-बगाहे कर रहे हैं। बिजनौर जिले के भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव सिसौदिया ने पत्रिका डॉटकॉम से बातचीत में बताया कि बिजनौर में जब भी उपचुनाव होगा तो नूरपुर सीट पर भारतीय जनता पार्टी सौ फीसदी जीत दर्ज करेगी।

यह भी पढ़ें-108 नंबर एंबुलेंस को कर रहे हैं कॉल तो पढ़ लें यह खबर, नहीं तो पढ़ सकते हैं मुश्किल में

उन्होंने कहा कि सपा-बसपा का गठबंधन भी अगर जारी रहा तब भी यह सीट भाजपा के खाते में ही जाएगी। जब उनसे जीत का आधार पूछा गया तो उन्होंने बताया कि इस सीट पर भाजपा की जीत का कारण दिवंगत विधायक का क्षेत्र की जनता के लिए किया गया काम और उनकी लोकप्रियता होगी।

यह भी देखें-अंतर्राज्यीय गिरोह का संचालन कर रही थी यह महिला, पुलिस ने मारा छापा तो रह गई हक्के-बक्के

उन्होंने कहा कि साथ ही हमारे संगठन की जिला स्तर पर मजबूती भी इस जीत का कारण बनेगी। पहले भी हम 2012 और 2017 के विधानसभा चुनाव में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि (लोकेंद्र चौहान) जो अब नहीं रहे हैं की लोकप्रियता और क्षेत्र में कराए गए विकास के आधार पर जीते हैं।

bjp mla late lokendra chauhan

आपको बता दें कि जिले की नूरपुर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक लोकेंद्र चौहान का 21 फरवरी को लखनऊ जाते समय सीतापुर के निकट भीषण सड़क दुर्घटना में ड्राइवर, एक सहयोगी और दो गनर सहित निधन हो गया था। वह लगातार दो बार से इस सीट से विधायक थे। उनके निधन से खाली नूरपुर सीट पर 6 महीने के अंदर उपचुनाव होना है।

जब उनसे जिले के जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट पर भाजपा के स्टैंड के बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि इस चुनाव में हमारी पार्टी की तरफ से कोई भी प्रत्याशी नहीं उतारा गया है। पार्टी की ओर से सभी जिला पंचायत सदस्यों को स्वतंत्र छोड़ दिया गया है। सभी सदस्य अपने इच्छानुसार जिसको भी वोट देना चाहें दे सकते हैं। आपको बता दें कि जिले में जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर 19 मार्च को चुनाव होना है।

bjp leader
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned