यूपी के बिजनौर में खुदाई के दौरान मिले ब्रिटिश काल के सिक्के

  • चांदी के सिक्कों को लूटने के लिए मची अफरा-तफरी
  • मजदूर और प्लाट में खेल रहे बच्चे उठा ले गए सिक्के

By: shivmani tyagi

Published: 21 Jan 2021, 08:51 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
बिजनौर ( Bijnor ) खाली पड़े प्लॉट की खुदाई के दौरान जमीन के नीचे से वर्षों पुराने ब्रिटिश कालीन सिक्के मिले हैं। इनमें से कुछ सिक्के चांदी के भी बताए जा रहे हैं। जब सिक्के मिले तो मौके पर अफरा-तफरी मच गई और मजदूरों के अलावा आसपास खेल रहे बच्चे इन सिक्कों को उठाकर ले गए। बाद में जब इस घटना का पता चला तो पूरे क्षेत्र में हल्ला मच गया। अब उन लोगों की पहचान में पुलिस जुटी हुई है जो मौके के सिक्के उठाकर ले गए।

यह भी पढ़ें: गैस सिलेंडर की बढ़ती कीमतों के विरोध में फूटा व्यापारियाें का गुस्सा, जमकर प्रदर्शन

यह पूरा मामला बढ़ापुर कस्बे के मोहल्ला मेन बाजार का है। बढ़ापुर के रहने वाले उमेश चंद्र यादव की मृत्यु हो गई थी और उनके मरने के बाद बेटों ने अपना पुस्तैनी मकान एक प्रॉपर्टी डीलर को बेच दिया था। काफी दिनों तक यह मकान खाली पड़ा रहा लेकिन अब इसमें निर्माण शुरू हुआ था।

यह भी पढ़ें: प्यार में धाेखा बर्दाश्त नहीं कर पाया युवक, खुद को गोली मार कर दे दी जान

घटना बुधवार की है मजदूर खाली पड़े प्लॉट में खुदाई कर रहे थे। इसी दौरान खुदाई के में चांदी के सिक्के निकल आए। जब चांदी के सिक्के निकले तो मजदूर इकट्ठा हो गए और सभी ने सिक्के उठाना शुरू कर दिया। जब प्लॉट में खेल रहे बच्चों ने देखा तो उनकी भी भीड़ लग गई और फिर जिसके हाथ जो सिक्का लगा उसने उसे उठा लिया।

यह भी पढ़ें: पंचायत चुनाव : भाजपा के पदाधिकारी गांव में रात्रि प्रवास कर जानेगे वोटरों का मिजाज

इस तरह मौके पर खजाना निकलने के बाद सिक्का लूटने के लिए लोगों में अफरा-तफरी मच गई। देखते ही देखते काफी भीड़ जमा हो गई। बाद में इस घटना का पता चला तो पुलिस ने पूरे मामले की जांच शुरू की। पुलिस अब पता लगाने की कोशिश कर रही है कि किन-किन लोगों ने मौके से सिक्के उठाए थे अभी तक जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक नींव से जो सिक्के मिले हैं वह 1918 सन के बताये जा रहे हैं।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned