थाने में थर्ड डिग्री टॉर्चर देकर तोड़ा बेकसूर युवक का पैर, दरोगा समेत तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड

Highlights

- बिजनौर जिले के मंडावर थाने का मामला

- युवक-युवती के भागने पर हरिद्वार में रह रहे युवक को उठाकर लाई थी पुलिस

- दरोगा और दो सिपाहियों ने बेकसूर युवक को दिया थर्ड डिग्री टॉर्चर

By: lokesh verma

Published: 13 Feb 2021, 01:34 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
बिजनौर. यूपी के बिजनौर जिले में एक बार फिर खाकी का चेहरा बेनकाब हुआ है। बेकसूर युवक को दरोगा और दो सिपाहियों ने थाने में बुलाकर इतना पीटा की उसके जिस्म की हड्डी तक तोड़ डाली। वह भी महज इसलिए की गांव में युवती किसी अन्य युवक के साथ भाग गई थी, जिसके बाद शक के आधार पर पुलिस ने थाने बुलाकर बेकसूर को थर्ड डिग्री देकर अस्पताल जाने पर मजबूर कर दिया। इस मामले में एसपी ने मंडावर थाने में तैनात दरोगा और दोनों सिपाहियों को निलंबित कर दिया है।

यह भी पढ़ें- ऑनलाइन ठगी करने वाले पांच आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, मोबाइल भी किये बरामद

बिजनौर जिले के थाना मंडावर थाना इलाके के एक गांव के रहने वाले ऋषिपाल सिंह ने दरोगा अशोक कुमार और सिपाही डीके शर्मा और विशाल तोमर पर अपने बेटे अर्पित को थर्ड डिग्री दिए जाने की शिकायत एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह से की थी। पीड़ित अर्पित के पिता ऋषिपाल सिंह की मानें तो गांव के ही रहने वाले एक प्रेमी युगल घर से भाग गए थे और उनका बेटा अर्पित जो कि हरिद्वार में रहता था, उसके कमरे पर पहुंच गए थे। पुलिस को भनक लगी तो पुलिस हरिद्वार अर्पित के कमरे पर पहुंची और वहां पर प्रेमी युगल तो नहीं मिले, लेकिन दरोगा अशोक कुमार और दो सिपाही अर्पित को उठाकर थाने ले आए और पूछताछ करके छोड़ दिया। इसके बाद फिर 8 तारीख को अर्पित को थाने बुलवाया और रात्रि 8 बजे के बाद अर्पित को पूछताछ करके छोड़ दिया।

दरोगा को इस पर भी तसल्ली नहीं हुई तो 10 फरवरी को फिर से अर्पित को थाने बुलाया और जमकर पिटाई कर डाली। दरोगा अशोक कुमार और सिपाही डीके शर्मा और विशाल तोमर ने डंडों से जमकर हवालात में अवैध तरीके से अर्पित की खूब पिटाई की। बेकसूर अर्पित अपने को बेगुनाह बताता रहा, लेकिन जालिम पुलिसवालों का दिल नही पसीजा। पुलिस वालों के थर्ड डिग्री टार्चर से पीड़ित अर्पित के पैर की हड्डी जब तक टूट नहीं गई तब तक पुलिस वालों का डंडा नहीं रुका। अब पीड़ित जिला अस्पताल में भर्ती है और और उसका इलाज किया जा रहा है ।

पीड़ित के पिता ने जिले के पुलिस अधीक्षक से इंसाफ की गुहार लगाई थी। इसके बाद एसपी ने इस घटनाक्रम को देखते हुए मंडावर थाने में तैनात दरोगा और दोनों सिपाहियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। इसके साथ ही सीओ को घटनाक्रम की जांच सौंपी गई है।

यह भी पढ़ें- ATM कार्ड की डिटेल हैक कर उसका क्लोन बनाकर निकाल चुके करोड़ों रुपये, इस तरह पुलिस ने कसा शिकंजा

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned