Independence Day: मदरसों में शान से फहराया तिरंगा, लगाए भारत माता की जय के नारे, देखें वीडियो-

lokesh verma | Publish: Aug, 15 2019 01:27:34 PM (IST) Bijnor, Bijnor, Uttar Pradesh, India

खास बातें-

  • मदरसों में पहुंचे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मनाया आजादी का पर्व
  • स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मदरसों के बच्चों में देखा गया उत्साह
  • मौलाना फुरकान अहमद ने बच्चों को दी स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास की जानकारी

बिजनौर. प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद् की तरफ से सभी मदरसों में स्वतंत्रता दिवस को लेकर जारी एडवाइजरी के बाद आज 15 अगस्त को जिले के सभी मदरसों में आजादी के मतवालों को याद करते समारोह आयाेजित किए गए। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बिजनौर के सभी मदरसों में पहले राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया। उसके बाद राष्ट्रगान हुआ। इस दौरान मदरसे में भारत माता की जय के नारे भी लगाए गए। बता दें कि इस मौके पर मुस्लिम समुदाय के साथ ही हिंदू समाज लोग भी मदरसों में पहुंचे और स्वतंत्रता दिवस के झंडारोहण कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

यह भी पढ़ें- Raksha Bandhan 2019: इस बड़ी बहन की मेहनत से टीम इंडिया को मिला स्टार बॉलर, जानिए पूरी कहानी

बिजनौर में झंडापुर स्थित फुरकानिया मदरसे में तिरंगा फहराने के साथ-साथ राष्ट्रगान भी हुआ। यही मदरसों के बच्चों के साथ मौजूद सभी लोगों ने भारत माता की जय के नारे भी लगाए। बता दें कि ध्वजारोहण से पहले शहर में मदरसे के बच्चों ने प्रभात फेरी निकाली। इस दौरान प्रभात फेरी का नजारा देखते ही बन रहा था। प्रभात फेरी में बच्चे देशभक्ति के नारे लगाते हुए गुजरे तो मौके पर मौजूद लोग भी भारत माता की जय के नारे लगाने लगे।

यह भी पढ़ें- Independence Day 2019: आईजी रमित शर्मा समेत मंडल के 46 पुलिस कर्मी होंगे सम्मानित

Independence Day celebtarte in madarsa of bijnor

इस मौके पर मदरसे के बच्चों ने देश प्रेम से ओतप्रोत गीत भी गाए। स्वतंत्रता दिवस पर मदरसे के बच्चों में काफी उत्साह देखा गया। मदरसे के बच्चों ने दूसरे स्कूली बच्चों की तरह मदरसे में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। इस मौके पर मदरसे के प्रबंधक मौलाना फुरकान अहमद ने बच्चों को स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास की भी जानकारी दी। इस तरह बिजनौर के कई मदरसों में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने झंडारोहण किया और देशभक्ति की मिसाल पेश की।

यह भी पढ़ें- 15 August Special: शहीद-ए-आजम भगत सिंह ने छाेटे भाई के नाम उर्दू में लिखा था अंतिम पत्र, भतीजे काे याद है एक-एक शब्द

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned