किसान यूनियन ने चौराहे पर जलाया गन्ना, ज्ञापन सौंपकर दी यह बड़ी चेतावनी- देखें वीडियो

Highlights

  • गन्ना और पुराल जलाकर किया विरोध
  • सरकार द्वारा गन्ने के मूल्य घोषित न करने पर जताया रोष
  • 9 दिसंबर तक मूल्य घोषित न करने पर दी आंदोलन की चेतावनी

By: Nitin Sharma

Published: 03 Dec 2019, 05:55 PM IST

बिजनौर। भारतीय किसान यूनियन के ब्लॉक अध्यक्ष चौधरी गजेंद्र सिंह टिकैत के नेतृत्व में मंगलवार को स्योहारा थाने के चौराहे पर गन्ना व पुराल जलाया। किसानों ने थाना अध्यक्ष को जिला अधिकारी बिजनौर के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा ।

चौराहे पर हुई तेज रफ्तार बाइकों की भिड़ंत, युवकों की हालत गंभीर- देखें वीडियो

गन्ने के रेट की अब तक नहीं हुई घोषणा

किसानों ने प्रदर्शन करने के साथ ही अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा। इसमें किसानों ने बताया कि गन्ना सत्र शुरू हुए एक महीना बीत गया है, लेकिन अभी तक सरकार द्वारा गन्ने के रेट की घोषणा नहीं की गई है। जिस कारण शुगरमिल द्वारा स्योहारा किसानों को काफी परेशानी हो रही है। प्रशासन द्वारा किसानों को बैंकों के बकाया के नाम पर जेल भेजा जा रहा है और बिजली विभाग द्वारा किसानों को बिजली के बकाया के नाम पर मुकदमे लिखे जा रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन द्वारा शुगर मिल स्योहारा पर करोड़ो का गन्ने का भुगतान रुका हुआ है।

टिकैत ने कहा कि रुपये न होने के चलते किसान गेहूं की फसल बोने को वह खाद्य बीज खरीदने के लिए परेशान हैं। बच्चों की फीस, गेहूं के लिए खाद्य-बीज आदि किसान नहीं खरीद पा रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन के किसानों ने कहा कि जब तक उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गन्ना मूल्य तय नहीं होता।तब तक किसानों ने जिलाधिकारी से पुराने मूल्य की दर से ही गन्ने का भुगतान की मांग की है।किसानों ने कहा कि अगर पुराने गन्ने का रुपया शुगर मिल द्वारा 9 दिसंबर तक नहीं किया गया तो किसान मिल गेट के सामने अनिश्चित काल तक धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned