कोरोना टेस्ट के दौरान हथकड़ी खोलकर फरार हुआ बंदी कुछ ही घंटों में गिरफ्तार

Highlights

- जिला अस्पताल की लैब से पुलिस को चकमा देकर हुआ था फरार

- एसपी सिटी के निर्देश पर गठित पुलिस टीम ने देर रात किया गिरफ्तार

- लापरवाही बरतने पर दो सिपाही लाइनहाजिर, दो होमगार्डों पर कार्रवाई की अनुशंसा

By: lokesh verma

Published: 13 Sep 2020, 12:14 PM IST

बिजनौर. कोविड-19 टेस्ट को लेकर जिला अस्पताल आए 4 बंदियों में से फरार हुए एक बंदी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि पुलिस को चकमा देते हुए बंदी हथकड़ी खोलकर जिला अस्पताल की लैब से फरार हो गया था। एसपी सिटी के निर्देश पर तीन टीम नियुक्त की गई थी। पुलिस टीम ने बीती रात थाना कोतवाली शहर क्षेत्र के एक चौराहे से बंदी को गिरफ्तार कर लिया। बंदी के फरार होने के मामले में एसपी सिटी ने 2 सिपाहियों को लाइनहाजिर किया है। जबकि 2 होमगार्डों पर कार्रवाई के लिए रिपोर्ट भेजी है।

यह भी पढ़ें- रैपिड एक्शन फोर्स के 44 जवान कोरोना संक्रमित, बढ़ा कम्युनिटी स्प्रेड का खतरा

बता दें शनिवार दोपहर को आर्म्स एक्ट का आरोपी इरशाद को तीन अन्य आरोपियों के साथ जिला अस्पताल की लैब में कोरोना टेस्ट के लिए लाया गया था। कोरोना टेस्ट के दौरान इरशाद नाम का मुलजिम पुलिस को चकमा देकर हथकड़ी खोलकर मौके से फरार हो गया था। इस घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था। आनन-फानन में एसपी सिटी लक्ष्मी निवास मिश्र ने अन्य पुलिसकर्मियों के साथ घटनास्थल का जायजा लेकर मुलजिम को पकड़ने के लिए तीन टीमों का गठन किया था। पुलिस ने बीती रात अभियुक्त इरशाद को बिजनौर शहर कोतवाली क्षेत्र के एक चौराहे से गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी सिटी लक्ष्मी निवास मिश्र ने बताया कि पुलिस ने बीती रात फरार इरशाद नाम के आर्म्स एक्ट के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस लापरवाही के मामले में दो सिपाहियों को लाइनहाजिर किया गया है। जबकि 2 होमगार्डों पर कार्रवाई के लिए रिपोर्ट भेजी गई है।

यह भी पढ़ें- Weather Update: सितंबर में पड़ रही मई जैसी गर्मी, जानें कब से पड़ेगी ठंड

coronavirus Coronavirus Outbreak
Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned