Bijnor में कोरोना वायरस के तीन संदिग्ध और मिले, सरकारी कार्यालय कराया गया बंद

Highlights
- उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के एक बाद एक मामले आने से लोग खौफजदा
- डूडा विभाग में कार्यरत सरकारी कर्मचारी समेत तीन लोगों में कोरोना वायरस जैसे लक्षण
- जिलाधिकारी ने एहतियात के तौर पर बंद कराया डूडा कार्यालय

बिजनौर. उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के एक बाद एक मामले आने से लोग खौफजदा हैं। लोगों से सार्वजनिक स्थानों या भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर नहीं जाने की अपील की जा रही है। इसी बीच बिजनौर में डूडा विभाग में कार्यरत सरकारी कर्मचारी समेत तीन लोगों में कोरोना वायरस जैसे लक्षण पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। चिकित्सकों की टीम ने दो लोगों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया है। जबकि एक अन्य को जिला अस्पताल लाया जा रहा है।
फिलहाल चिकित्सकों की टीम कर्मचारी की जांच कर रही है।

बताया जा रहा है कि बिजनौर के डूडा कार्यालय में जिला समन्वयक के पद पर कार्यरत एक कर्मचारी समेत दो लोगों को में कोरोना वायरस पाए जाने की आशंका को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया है। जहां स्वास्थ्य विभाग की टीम उनकी जांच कर रही है। इसके साथ ही कर्मचारी के सैंपल लेकर लखनऊ भेजे जा रहे हैं। इसके साथ ही एक अन्य में भी कोरोना के लक्षण पाए जाने की सूचना पर जिला अस्पताल से टीम भेजकर लाया जा रहा है।

डीएम रमाकांत पांडे ने बताया कि बीती रात उन्हें सूचना मिली थी कि डूडा विभाग के कर्मचारी कल ही काशीपुर से लौट कर आए थे। कोरोना वायरस की आशंका होने पर उन्हें टीम ने जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया है। फिलहाल उनकी जांच की जा रही है। इसके साथ ही डूडा विभाग के कार्यालय को एहतियातन अभी बंद कर दिया गया है।

जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. ज्ञानचंद ने बताया कि दो संदिग्धों को फिलहाल आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। वहीं एक अन्य में कोरोना के लक्षण मिलने की जानकारी मिली है। उन्हें भी स्वास्थ्य विभाग की देखरेख में जिला अस्पताल लाया जा रहा है। आज सभी के सैंपल लेकर लखनऊ केजीएमयू में भेजे जाएंगे।

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned