गांव वालों ने इस शख्स को पेड़ से बांध पीट-पीटकर किया अधमरा, वजह जानकर चौंक जाएंगे आप- देखें वीडियो

लोगों द्वारा दी गर्इ यह सजा देख रह जाएंगे हैरान

By: Nitin Sharma

Published: 03 Jan 2019, 02:30 PM IST

बिजनौर।यूपी के बिजनौर जिले में उस समय सनसनी फैल गर्इ।जब लोगाें ने एक शख्स को एेसी हरकत करते देख लिया। इतना ही नहीं इसके बाद गांव वालों ने आरोपी की इस हरकत पर पुलिस को सूचना देने की जगह खुद ही सजा देने में जुट गये। लोगों ने देर रात से लेकर कड़कड़ाती ठंड में सुबह तक शख्स को पेड़ से बांधकर उसकी जुत्ते चपल्लों से लेकर लात घुसों से जमकर पिटार्इ की।इसका एक वीडियो भी सामने आया है।जिसे देखकर हर कोर्इ हैरान है। वहीं पुलिस ने आरोपी चोर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें-बुलंदशहर हिंसा मामले में चकमा देकर फिर इस जगह पहुंचे आरोपी, देखती रह गर्इ पुलिस

यह काम करता दबोचा गया शख्स

दरअसल यह पूरा मामला बिजनौर के हल्दौर थाना क्षेत्र के गांव मलपुरा का है।गांव निवासी किसान पवन कुमार के घर एक पशुशाला है।जहां उसके पशु बंधे रहते हैं।जानकारी के अनुसार बीती रात किसान पवन को पशुशाला में चोरों के घुसने की आहट हुई।यहां चोर पशु को ले जाने का प्रयास कर रहे थे। तभी पवन व उसके परिजनों ने एक चोर को दबोचा लिया।गांव में चीख पुकार की आवाज होने पर मौके पर ग्रामीण भी एकत्र हो गए। ग्रामीणों ने मौके पर पहुंच कर एक बदमाश को दबोचा।जबकि उसके दो अन्य साथी ग्रामीणों को चकमा देकर मौके से फरार हो गए।

आम के पेड़ से बांधकर कर दी सजा

ग्रामीणों ने एक बदमाश को आम के पेड़ से बांधकर चप्पलों और लात घूसों से रात भर पिटाई की। इतना ही नहीं ग्रामीणों द्वारा चोर को सुबह तक पीटा गया। जिससे उसकी हालत अधमरी हो गई। ग्रामीणों द्वारा चोर को पूरी रात व दिन में पेड़ से बांधकर लात घूंसों व चपल्लों से पीटा गया। लेकिन क्षेत्र की पुलिस के कानों पर जूं तक नही रेंगी। ग्रामीणों द्वारा पकड़े गए बदमाश को जिस तरह से ग्रामीणों द्वारा पीटा गया है। अगर पशु चोर की इस दौरान मौत हो जाती तो इसका जिम्मेदार कौन होता। उधर आज किसी ग्रामीण ने पुलिस को सूचना दी जिसके बाद हल्दौर थाना क्षेत्र पैजनियां चौकी प्रभारी पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और चोर को अपने साथ थाने ले गये। पकड़े गए चोर ने पुलिस को अपना नाम कैलाश बताया। वह बिजनौर के थाना हल्दौर गांव तहारपुर का रहने वाला है।

Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned