अपनी परिवेदनाएं लेकर निदेशालय पहुंचे 115 प्रिंसिपल

दोहरे पदस्थापन के 115 प्रकरण आए

जल्द होगा निस्तारण, परिवेदनाएं लेकर पहुंचे प्राचार्य

शिक्षा विभाग में तबादलों के बाद हुए दोहरे पदस्थापन की परिवेदनाएं लेकर सोमवार को प्राचार्य शिक्षा निदेशालय पहुंचे।

बीकानेर.

शिक्षा विभाग में तबादलों के बाद हुए दोहरे पदस्थापन की परिवेदनाएं लेकर सोमवार को प्राचार्य शिक्षा निदेशालय पहुंचे। प्रदेश के अलग-अलग जिलों से 115 प्राचार्य आए थे। इसकी परिवेदनाएं और इन्छित स्कूल की सूचियां संयुक्त निदेशक ने ली है। जल्द ही इन प्रकरणों का निस्तारण किया जाएगा।

संयुक्त निदेशक नूतन बाला कपिला ने बताया कि इसमें अधिकतर प्रकरण न्यायालय से स्थगन के है। इनमें कुछ मामलों में दोनों पक्षों को आमने सामने बिठाकर समझाईश की गई। दूसरे स्कूल में रिक्त पदों की जानकारी मांगी गई। संयुक्त निदेशक के अनुसार इसी तरह दोहरे पदस्थापन वाले व्याख्याताओं को 13 व 14 नवंबर को बुलाया गया है।

इसमें 13 नवंबर को भौतिक विज्ञान, गणित, जीव विज्ञान, रसायन विभाग, गृह विज्ञान, कृषि विज्ञान, अंग्रेजी, संस्कृत, इतिहास, वाणिज्य, भूगोल, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र, संगीत, राजस्थानी सहित विषयों के व्याख्याताओं को बुलाया गया है। वहीं 14 नवंबर को हिन्दी व राजनीति विज्ञान विषय के व्याख्याताओं को बुलाया गया है।

शर्मा को श्रेष्ठ कविता पुरस्कार
बीकानेर. शब्द शक्ति साहित्यिक संस्था गुरुग्राम के तत्वावधान में आयोजित अखिल भारतीय कविता प्रतियोगिता में बीकानेर की लेखिका आशा शर्मा को श्रेष्ठ कविता पुरस्कार के लिए चुना गया। संस्था के मुख्य संयोजक संजीव शर्मा के अनुसार देश भर से प्राप्त पिता शीर्षक पर आधारित कविताओं में आशा शर्मा को उनकी कविता के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया गया। गुरुग्राम में आयोजित समारोह में आशा को पुरस्कृत किया गया। उन्हें पुरस्कार स्वरूप प्रशस्ति पत्र, अंग वस्त्र एवं नगद राशि प्रदान की गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लक्ष्मी शंकर वाजपेयी थे।

Nikhil swami
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned