गांवों में कैद हुआ गोवंश, भूख से दम तोड़ रहे हैं पशु

किसानों द्वारा खेतों को जाने वाले सभी रास्तों पर अवैध नाके लगा दिए जाने से गोवंश गांवों व कस्बों में कैद होकर रह गया है।

By: dinesh swami

Published: 11 Sep 2017, 02:49 PM IST

महाजन. कस्बे सहित समीपवर्ती अरजनसर व अन्य गांवों व कस्बों में इन दिनों किसानों द्वारा खेतों को जाने वाले सभी रास्तों पर अवैध नाके लगा दिए जाने से गोवंश गांवों व कस्बों में कैद होकर रह गया है। इस मामले को लेकर अरजनसर के लोगों ने नायब तहसीलदार को ज्ञापन देकर ऐसे नाके हटाने व कार्यवाही करने की मांग की है।

 

देहात भाजपा जिला उपाध्यक्ष शिवरतन शर्मा, विश्व हिन्दू परिषद के प्रखण्ड अध्यक्ष हनुमान जस्सू, मदनसिंह भाटी सहित अन्य कई लोगों ने नायब तहसीलदार से मिलकर उन्हें समस्या से अवगत करवाया। ग्रामीणों ने बताया कि अरजनसर कस्बे में वर्तमान में करीब 400 से अधिक निराश्रित गोवंश है। आसपास के गांवों से प्रतिदिन यहां आवारा पशु छोडऩे से इनकी संख्या बढ़ रही है।

 

हालांकि गोशाला व गोरक्षकों द्वारा पशुओं का पालन किया जा रहा है परन्तु संसाधनों के अभाव में इनका पालन होना सम्भव नहीं है। अरजनसर से निकलने वाले सभी कच्चे रास्तों को किसानों ने गैरकानूनी तरीके से बन्द कर दिया है। जिससे ये पशु गांवों में कैद होकर रह गए है। खाली पड़े खेतों, गोचर व अन्य सरकारी भूमि पर चरने के लिए जाने वाले सैकड़ों पशु अब अवैध नाकों के कारण कस्बे में भूख से व्याकुल होकर दम तोड़ रहे है।

 

ग्रामीणों ने बताया कि रेल पटरियों के पास से निकलने के चक्कर में रोजाना कई पशु मर रहे हैं। रामसरा की पुली, फूलेजी की पुली, खारिया मार्ग, मिठडिय़ा सड़क, राणीसर सड़क व रामबाग रास्ते पर कुछ लोगों ने अवैध गेट व नाके लगा रखे है जहां से पशुओं को निकलने नहीं दिया जा रहा है।

 

 

ई-मित्र संचालकों की बैठक
छतरगढ़. यहां तहसील स्तरीय ई मित्र संचालकों की बैठक रविवार को हुई। इसमें ई मित्रों से सम्बंधित कार्यो में आ रही समस्याओं को लेकर परिचर्चा की गई। ई-मित्रों संचालकों का नेतृत्व कर रहे अर्जुनसिंह भाटी ने बताया कि गत महिने खाजूवाला पंचायत समिति में आयोजित हुए आम सभा में ई मित्र सम्बन्धी कार्यो पर प्रगति रिपोर्टिंग को लेकर परिचर्चा हुई। जिसमें भामाशाह, राशन कार्ड, लेबर कार्ड, दिव्यांग रजिस्ट्रेशन के संबंध में आ रही समस्याओं बारे
में चर्चा हुई थी। बैठक में खुमनाथ, रणजीत धतरवाल, कृष्णलाल कस्वा, दिनेश शर्मा सहित अन्य ई मित्र संचालक उपस्थित थे।

dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned