विधानसभा में भाटी ने उठाया पाक विस्थापितों का मामला, पढ़े पूरी खबर

विधानसभा में भाटी ने उठाया पाक विस्थापितों का मामला, पढ़े पूरी खबर

dinesh swami | Publish: Feb, 15 2018 10:32:34 AM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

विधानसभा में पाक विस्थापितों की समस्याओं का मुद्दा श्रीकोलायत विधायक भंवर सिंह भाटी ने जोर-शोर से उठाया।

बीकानेर . विधानसभा में बुधवार को पाक विस्थापितों की समस्याओं का मुद्दा श्रीकोलायत विधायक भंवर सिंह भाटी ने जोर-शोर से उठाया। उन्होंने कहा बार-बार सरकार से आग्रह और ध्यान आकृष्ट करने के बावजूद सरकार ने पाक विस्थापितों की समस्याओं का हल नहीं किया। वे आज भी भू-आवंटन, आवासीय भूखण्ड की आस में बैठे हैं। सरकार की ओर से सिवाय आश्वासन उन्हें कुछ भी नहीं मिला।

 

भाटी ने विधानसभा के माध्यम से सरकार का ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा कि जो पाक विस्थापित भू-आवंटन से वंचित है, उन्हें शीघ्र ही इन्दिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र में भू-आवंटन किया जाए। उन्होंने कहा जिन पाक विस्थापित आवंटियों की भूमि किसी परियोजना में अवाप्त हो गई या जिनकी भूमि अवाप्त हो गई या जिनकी भूमि काश्त लायक नहीं है। एेसे प्रकरणों का जल्द निस्तारण कर उन्हें भू-आवंटन किया जाए।

 

देश की नागरिकता मिली, फिर भी पाक विस्थापित
भाटी ने कहा कि वर्ष १९७१, १९७८ व १९८० व इसके बाद पाकिस्तान से हजारों की संख्या में हिन्दू परिवार भारत आए और हिन्दुस्तान की नागरिकता प्राप्त कर हिन्दुस्ताान के नागरिक बन गए, लेकिन इन्हें तब से लेकर अब तक पाक विस्थापित ही कहा जा रहा है।

 

उन्होंने कहा कि तत्कालीन राज्य सरकारों द्वारा इन पाक विस्थापितों के पुनर्वास के लिए इन्दिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र के प्रथम व द्वितीय चरण में २५ बीघा कमाण्ड भूमि व रहने के लिए निशुल्क आवासीय भूखण्ड व कुछ समय तक राशन रियायती दर पर देने की घोषणा की गई थी।

 

उन्होंने कहा कि अधिकतर पाक विस्थापित परिवारों को बीकानेर जिले की खाजूवाला, पूगल, श्रीकोलायत व बज्जू तहसील में व जैसलमेर जिले की उपनिवेशन तहसील, नाचना व मोहनगढ़ क्षेत्र में परिवार के मुखिया के नाम भू-आवंटन किया गया था, वहीं की चक आबादियों में आवासीय भूखण्ड दिया गया था।

 

मूलभूत सुविधाएं तक नहीं
श्रीकोलायत विधायक भंवर ङ्क्षसह भाटी ने कहा कि हजारों की संख्या में पाक विस्थापितों को तत्समय भूमि आवंटन किया गया था, जिसमें से कई विस्थापितों को भूमि का दोहरा आवंटन हो गया व कई विस्थापितों को आवंटित भूमि, नहर, वन, सड़क में आवाप्त हो गई। वहीं कई विस्थापितों की भूमि कमाण्ड से अनकमाण्ड हो गई व पाक विस्थापितों की चक आबादियां में भी कई विस्थापित आवासीय भूखण्ड से वंचित है व इनकी चक आबादियां आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned