scriptbikaner city news | बिखरते सपनों को समेटने में हाथ से निकल रही जिंदगी | Patrika News

बिखरते सपनों को समेटने में हाथ से निकल रही जिंदगी

-जिले में हर साल बढ़ रहे आत्महत्या के मामले

- मनोचिकित्सकों का कहना, दीमागी रूप से तनाव नहीं झेल पा रही युवा पीढ़ी

बीकानेर

Published: June 22, 2022 08:46:37 am

जयप्रकाश गहलोत

केस एक :- गंगाशहर थाना क्षेत्र में 17 मार्च, 2020 को चौपड़ा बाड़ी निवासी राजूराम सोनी व उसकी पत्नी मुन्नी देवी सोनी ने घड़सीसर के पास ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी। मुन्नी देवी कैंसर से पीडि़त थी। पति-पत्नी बीमारी से तंग आ चुके थे।
बिखरते सपनों को समेटने में हाथ से निकल रही जिंदगी
बिखरते सपनों को समेटने में हाथ से निकल रही जिंदगी
केस दो :- नापासर कस्बे के पट्टा बास में 11 अक्टूबर, 2019 को बजरंगलाल जोशी व उसकी पत्नी रामन्या ने घर के कमरे में साड़ी से फंदा बनाकर झूल गए, जिससे दोनों की मौत हो गई।
केस तीन :- नापासर कसबे में ही 26 अक्टूबर,2021 को दो सगी बहिनों सरस्वती 18 व सरिता 13 ने घर के कमरे में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। एक बहन ने कमरे में तो दूसरी ने बरामदे में फांसी लगाई। हादसे के समय घर में दोनों बहिने अकेली थी।
बीकानेर। आर्थिक तंगी, घरेलू कलह, प्यार में धोखा, नौकरी, बेरोजगारी या चाहे हो शारीरिक कष्ट अब आम लोग किसी तरह का तनाव सहन नहीं कर पा रहे। इन्हीं कारणों से उपजे तनाव के कारण वे मौत को गले लगा रहे हैं। जिला पुलिस के आंकड़ों पर गौर करें तो कई चौकान्ने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं। आत्महत्या करने वालों में सर्वाधिक 20 से 45 साल के युवा लोग हैं। वर्तमान में जिले में हर पखवाड़े में तीन से चार व्यक्ति किसी न किसी तरीके से आत्महत्या कर रहे हैं। अब कारण चाहे आर्थिक तंगी, पारिवारिक कलह, प्यार में धोखा या कुछ और रहा हो लेकिन यह तय है कि अब लोगों की मानसिक िस्थति कमजोर हो रही है। जिले में हर साल 300 के करीब लोग आत्महत्या कर रहे हैं।
आत्महत्या करने वालों में 15 से 35 साल के अधिकपुलिस आंकड़ों की मानें तो पिछले सात सालों में बीकानेर जिले में आत्महत्या के कुल 1494 प्रकरण दर्ज हुए हैं। इनमें हैरान करने वाली बात है कि आत्महत्या करने वालों में 15 से 35 साल की उम्र के लोग सबसे अधिक है। इस उम्र के 963 लोगों ने आत्महत्या की। आत्महत्या करने वालों में भी महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों की संख्या अधिक है। 351 महिलाओं ने आत्महत्या की है वहीं 1143 पुरुषों ने मौत को गले लगाया। इससे स्पष्ट पता चलता है कि युवाओं का मानसिक संतुलन कमजोर हो रहा है।
फांसी लगाने के मामले ज्यादा

बीकानेर जिले में सात साल में 1494 लोगों ने आत्महत्या की जिसमें से 1029 ने फांसी, 158 ने ट्रेन के आगे कूदकर, 154 ने जहरीला पदार्थ खाकर, 61 ने नहर छलांग लगाई एवं 92 लोगों ने अन्य तरीकों से आत्महत्या की। यह भी बड़ी चिंता का विषय है। घर में आत्महत्या करने वालों का आंकड़ा 872 हैं और घर से बाहर जाकर 622 ने आत्महत्या की। 852 ने दिन में और 510 ने रात के समय में आत्महत्या की। 132 लोगों का ऐसा आंकड़ा है, जिनके आत्महत्या करने के समय के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया।
आत्महत्या की मुख्य वजह

- पारिवारिक कलह 38 प्रतिशत

- बीमारी 5 प्रतिशत- दिवालियापन 5 प्रतिशत

- नशा 20 प्रतिशत- प्रेम संबंध 19 प्रतिशत

- गरीबी 4 प्रतिशत- अन्य कारण 9 प्रतिशत
पुलिस के आंकड़े

साल आत्महत्या2015 151

2016 1662017 168

2018 2142019 214

2020 2452021 282

2022 58

वे हादसे जो कभी भुलाएं नहीं जाते

-28 मार्च को कोटगेट थाना क्षेत्र के धोबी तलाई में बाप ने दो बेटियों के साथ जहर खाया, बाप-बेटी की मौत। एक बेटी बची।
- गत वर्ष 16 जुलाई को नाथवाणा रेलवे स्टेशन मास्टर विनोद कुमार ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली।- 27 जुलाई को पांचू थाना क्षेत्र के सारुंडा गांव में युवक-युवती ने पेड़ से फंदा डालकर खुदकुशी कर ली।
- पांच अगस्त को जेएनवीसी थाना क्षेत्र में गंगाशहर थाने के सिपाही बाबूलल डूडी ने ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी।- जेएनवीसी थाना क्षेत्र में मनोज नामक युवक ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली।
इनका कहना है...

लोगों की सहनशक्ति कमजोर हो रही है। वे तनाव को सहन नहीं कर पा रहे। तनावग्रस्त व्यक्ति आत्महत्या जैसे कदम उठाते हैं। तनावग्रस्त व्यक्ति का कुछ समय के लिए खुद के दिमाग पर संतुलन नहीं रहता और वे खुदकुशी जैसा कदम उठा लेते हैं। तनावग्रस्त व्यक्ति को उसके परिवार के लोग ही संभाल सकते हैं।
डॉ. सिद्धार्थ असवाल, मनोरोग चिकित्सक

इनका कहना है...आत्महत्या किसी समस्या का समाधान नहीं है। युवा कठिनाइयों का हिम्मत से सामने करें। न कि कठिनाइयों के आगे झुक जाए। घर के बड़े-बुजुर्ग व जिम्मेदार लोग परिवार के हर सदस्य से उसकी समस्याओं को जाने और उन्हें उनसे लड़ने के लिए प्रेरित करें।
योगेश यादव, पुलिस अधीक्षक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

काली मां पर टिप्पणी के बाद BJP ने TMC सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत, की गिरफ्तारी की मांगयूपी को बड़ी सौगात, काशी को 1800 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम Modi, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का करेंगे लोकार्पणDelhi Shopping Festival: सीएम अरविंद केजरीवाल का बड़ा ऐलान, रोजगार और व्यापार को लेकर अगले साल होगा महोत्सवसलमान के वकील को लॉरेंस गुर्गों की धमकी, मूसेवाला हाल करेंगेशिखर धवन बने टीम इंडिया के नए कप्तान, वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का हुआ ऐलानMaharashtr: नासिक में 'सूफी बाबा' ख्वाजा सैय्यद चिश्ती की हत्या, सिर में मारी गई गोली, अफगानिस्तान से था नाताKaali Poster Controversy: कनाडा के म्यूजियम ने हिंदू आस्था को ठेस पहुंचाने पर मांगी माफी, नहीं दिखाई जाएगी 'काली' फिल्मविराट कोहली जल्द लेंगे क्रिकेट से संन्यास, ये 2 खिलाड़ी ले सकते हैं उनकी जगह!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.