scriptbikaner city news | अफसर से अपराधी बने तो हुए फरार, हुलिया बदला फिर भी आए गिरफ्त में | Patrika News

अफसर से अपराधी बने तो हुए फरार, हुलिया बदला फिर भी आए गिरफ्त में

- एक साल में 1087 भगोड़ों को पकड़ा

- कई 20-30 साल से थे फरार

बीकानेर

Published: July 04, 2022 12:13:21 pm

जयप्रकाश गहलोत

केस एक :- हनुमानगढ़ निवासी चिकित्सक गुरदीपसिंह के खिलाफ साल 1989 में सदर थाने में मारपीट का मामला दर्ज हुआ। इसके बाद वह फरार हो गया। अब 30 साल बाद बीकानेर पुलिस ने जयपुर से पकड़ा है। आरोपी ने जयपुर की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में चाय की दुकान कर रखी थी।
अफसर से अपराधी बने तो हुए फरार, हुलिया बदला फिर भी आए गिरफ्त में
अफसर से अपराधी बने तो हुए फरार, हुलिया बदला फिर भी आए गिरफ्त में
केस दो :- अलवर निवासी बिशन सिंह मीणा बीकानेर में आरपीएफ में हवलदार था। साल 2001 में उसके खिलाफ कोटगेट थाने में मारपीट का मामला दर्ज हुआ। तब से वह फरार चल रहा था। आरोपी हुलिया बदल कर अलवर के काला कुआं क्षेत्र में रहने लगा। जहां मजदूरी कर रहा था, अब पकड़ा गया।
बीकानेर. अपराधी अपराध करने के बाद पुलिस से बचने के लिए कितने भी जतन कर ले, आखिर एक दिन पकड़ में आ ही जाता है। बीकानेर पुलिस की ओर से एक साल में पकड़े गए एक हजार से अधिक भगोड़ों में पुलिसकर्मी और चिकित्सक भी शामिल हैं, जो शहर छोड़कर और हुलिया बदल कर सालों तक छिपे रहे। अब सलाखों के पीछे हैं। हालांकि कई ऐसे फरार अपराधियों की फाइलों को भी बंद किया गया, जिन्होंने अपना पूरा जीवन ही फरारी में काट लिया। अब मौत होने के बाद पुलिस को उनके छिपे रहने के ठिकाने का पता चला है।
फरारी में बिताया जीवन

बीकानेर पुलिस ने भगोड़े और फरार घोषित अपराधियों की तलाश के दौरान दस ऐसे मामले ट्रेस किए, जिनमें अपराधी के छिपे ठिकाने का पुलिस ने पता लगा लिया। इनमें सात ऐसे थे, जब पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने पहुंची तो पता चला कि उसकी मृत्यु हुए ही कई साल बीत गए हैं।
इनकी हो चुकी मौत

हनुमानगढ़ के रावतसर निवासी बुधराम मोची, अलवर के श्यामपुरा निवासी करणीसिंह राजपूत, झुंझुनूं के जाखासर निवासी रसीद अली, सीकर के नया बास निवासी ओमप्रकाश उर्फ पप्पू मीना, सीकर के नया बास निवासी गोरखाराम उर्फ गोरखिया मीणा, सीकर के नया बास निवासी मानाराम उर्फ मानिया मीणा, झुंझुनूं के जाबिर हुसैन का 20-22 साल बाद ठिकानों का पता चला। पुलिस वहां चली तो पता चला कि इनकी मौत हो चुकी है। इनमें से कोई मारपीट, चोरी, धोखाधड़ी सहित अन्य आपराधिक मामलों में आरोपी था।
एएसआइ ने बनाया रेकॉर्ड

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर अमित कुमार बुड़ानिया ने बताया कि जिला पुलिस ने एक साल में 1087 स्थायी व अस्थायी वारंटियों को पकड़ा है। इसमें 377 अपराधियों को अकेले एएसआइ सुभाष यादव ने पकड़ा। इसके बाद से यादव खौजी थानेदार के नाम से पहचाना जाने लगा है। इस पर पुलिस अधीक्षक ने जिला स्तर पर यादव को सम्मानित करने के साथ ही विशेष पदोन्नति के लिए सिफारिश की है।
बीकानेर पुलिस ने पकड़े यह अपराधी

3 अपराधी 299 सीआरपीसी में वांछित

1 ईनामी अपराधी

1050 स्थायी वारंटी

33 अन्य

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Cabinet Expansion Live Updates: विजय चौधरी, विजेंद्र यादव, तेज प्रताप सहित इन विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथKejriwal Press Conference: केजरीवाल ने बताया कैसे बनेगा देश का हर गरीब अमीर, इन 4 बड़े कामों पर दिया जोरदलित वोट छिटकने का डर: डैमेज कंट्रोल में जुटे सत्ता-संगठन, आधा दर्जन मंत्रियों ने जालोर में डेरा डालाकौन होगा बिहार का नेता प्रतिपक्ष: जेपी नड्डा की मौजूदगी में दिल्ली में बैठक, इन मुद्दों पर भी होगी चर्चाFIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ को किया सस्पेंड; महिला वर्ल्ड कप की मेजबानी भी छीनीमहागठबंधन सरकार बनते आनंद मोहन को मिली आजादी, पटना में परिजनों से मिले, जेल के बदले सर्किट हाउस में बिताई रातसीएम गहलोत का आज से तीन दिवसीय गुजरात दौरा, चुनावी तैयारियों पर पार्टी नेताओं के साथ होगा संवादतेज हवा और झमाझम बारिश से लखनऊ में ऐतिहासिक भूल भुलैया का गुम्बद गिरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.