पानी के लिए मची त्राहि-त्राहि

पानी के लिए मची त्राहि-त्राहि

Atul Acharya | Publish: Jul, 12 2019 07:01:04 AM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

bikaner news- प्रशासन ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल की सुचारू व्यवस्था करने में नाकाम

छत्तरगढ़. तहसील मुख्यालय सहित आस-पास के गांवों में भीषण गर्मी में पेयजल की भारी किल्लत बनी है। जलदाय विभाग की ओर से पेयजल की माकूल व्यवस्था नहीं होने से पानी के लिए त्राहि-त्राहि मची है। ग्रामीणों को पानी के लिए इधर-उधर भटकते देखा जा सकता है। जनप्रतिनिधियों द्वारा विभाग व प्रशासन को इस समस्या को अवगत करवाने के बावजूद इस दिशा में कोई पहल नहीं की गई है।

 

कस्बे के वार्ड तीन, चार, नौ, दस व इंदिरा कॉलोनी, नाथों का मोहल्ला सहित अन्य मोहल्लां में पानी की आपूर्ति बाधित है। इसे ही हालात सतासर, आवा, खारवाली, राजासर भाटियान, कैला, लाखूसर, रामनगर सहित अन्य गावों में बने है। श्रवण कुमार सारस्वत व किशोर जाखड़ ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में पीने के पानी टैंकरों से मंगवाना पड़ रहा है तथा प्रति टैंकर सात सौ से एक हजार रुपया मजबूरन देना पड़ रहा है। कस्बे के सोहनलाल भाम्भू व हेतराम चौहान ने बताया कि जलदाय विभाग द्वारा पेयजल आपूर्ति दिनभर में मात्र आधा घंटा ही दी जा रही है।

 

इससे पूरे गांव में आपूर्ति नही हो पा रही है। छत्तरगढ़ विकास समिति अध्यक्ष श्रवण कुमार भाम्भू व परचून संघ अध्यक्ष श्यामसुन्दर रिणवां ने छत्तरगढ़ एसडीएम सीता शर्मा से तहसील क्षेत्र में पेयजल वेवस्था सुचारू करने का आग्रह किया है। आगामी एक दो दिन में क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था सुधारी नहीं गई तो भारतीय किसान संघ अध्यक्ष अर्जुनसिंह भाटी ने ग्रामीणों के नेतृत्व में तहसील मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned