मंदिर व मोहल्ले सजे, नृसिंह महोत्सव आज

मंदिर व मोहल्ले सजे, नृसिंह महोत्सव आज

Atul Acharya | Updated: 17 May 2019, 06:20:16 AM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

जगह-जगह होंगी नृसिंह-हिरण्यकश्यप लीलाओं का मंचन

 

बीकानेर. भगवान विष्णु के अवतार नृसिंह का प्राकट्य दिवस नृसिंह जयंती शुक्रवार को मनाया जाएगा। शहर में स्थित विभिन्न नृसिंह मंदिरों में दर्शन, पूजन और अभिषेक के आयोजन होंगे। नृसिंह मंदिरों के आगे नृसिंह-हिरण्यकश्यप लीलाओं का मंचन होगा। श्रद्धालु व्रत-उपासना कर देर शाम बाद व्रत का पारणा करेंगे। मंदिरों सहित घरों में भी भगवान नृसिंह की पूजा-अर्चना की जाएगी। नृसिंह महोत्सव को लेकर मंदिरों के रंग -रोगन के साथ रंगीन रोशनियां लगाई गई है। मंदिरों के आगे मोहल्लों की साफ-सफाई कर भव्य रूप से सजाए गए है। लीला मंचन स्थल पर रोशनियां और कागज की फर्रिया लगाने का काम रात तक चलता रहा। मंदिर पुजारी सहित मोहल्लेवासी और श्रद्धालु आयोजन की तैयारियों में जुटे रहे। मंदिरों और मूर्तियों को विभिन्न प्रकार के पुष्पों से सजाने की तैयारियां की गई है।

 

 

मुखौटो और वस्त्रों की सार-संभाल

नृसिंह जयंती पर परम्परानुसार होने वाली नृसिंह-हिरण्यकश्यप लीलाओं के मंचन की तैयारियां की गई है। शुक्रवार शाम को मंदिरों के आगे नृसिंह-हिरण्यकश्यप के बीच प्रतीकात्मक युद्ध और हिरण्यकश्यप वध की लीला का मंचन होगा। लीला मंचन को लेकर नृसिंह और हिरण्यकश्यप स्वरूप धारण करने के दौरान काम आने वाले मुखौटो और वस्त्रों की सार संभाल की गई। जिस थंभ से भगवान नृसिंह प्रकट होंगे, उसको तैयार किया गया।

 

 

यहां होगा लीलाओं का मंचन
नृसिंह जयंती पर शहर में डागा चौक, लखोटिया चौक, नत्थूसर गेट, मनावतों का मोहल्ला, दुजारियों की गली में नृसिंह-हिरण्यकश्यप लीलाओं का मंचन होगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned