scriptbikaner news 10101 | हर दिन सड़क पर हादसों में हार रही जिंदगी | Patrika News

हर दिन सड़क पर हादसों में हार रही जिंदगी

डेढ़ महीने में 103 सड़क हादसे और 29 की मौत

पुलिस-प्रशासन की तमाम कोशिशें बेकार

बीकानेर

Updated: April 01, 2022 10:59:48 am

जयप्रकाश गहलोत

बीकानेर. जिले में हर दिन सड़क हादसों में जिंदगी हार रही है। पिछले 16 दिनों में 17 लोग जिंदगी गवां चुके हैं। तेज रफ्तार, आवारा पशु, ओवरलोड हादसे की वजह बन रहे हैं। हादसों पर अंकुश लगाने की पुलिस तमाम कोशिशें कर चुकी हैं लेकिन परिणाम अपेक्षित कतई नहीं हैं।
हर दिन सड़क पर हादसों में हार रही जिंदगी
हर दिन सड़क पर हादसों में हार रही जिंदगी
बिना हेलमेट व तेजगति सबसे बड़ा कारणसड़क हादसे में सर्वाधिक बिना हेलमेट व तेजगति से वाहन चलाने वाले मौत का शिकार बन रहे हैं। अकेले बीकानेर जिले की बात करें तो पिछले 27 दिन में 23 सड़क हादसे हुए, जिसमें 9 की मौत और 33 लोग घायल हुए हैं। इन हादसों में भी बाइक व पिकअप से ज्यादा हादसे हुए हैं।
पुलिस, आरटीओ व जिला प्रशासन ने मूंद रखी आंखें

सड़क हादसों को लेकर ज़िला प्रशासन, पुलिस व आरटीओ मूकदर्शक बने हुए हैं। जिम्मेदार विभाग बयानबाजी और कागजी खानापूर्ती कर इतिश्री कर लेते हैं, जबकि हकीकत में हादसों को रोकने में कोई रुचि नहीं ले रहा।
यह इंतजाम फिर भी व्यवस्था बेलगामहादसों को रोकने के लिए हाइवे के लिए हाइवे मोबाइल, संबंधित थाने और आरटीओ विभाग की टीमें तैनात रहती है। यातायात पुलिस भी कार्रवाई करती है । इसके बावजूद हादसों पर अंकुश नहीं लग रहा।
इन हादसों ने दहलाया

- 11 फरवरी को बामनवाली के पास दो ट्रकों की भिड़ंत के बाद लगी आग, दो व्यक्तियों की मौत।- 12 फरवरी को सैरुणा थाना क्षेत्र में कार ट्रक से टकराई, दिल्ली निवासी पति-पत्न की मौत।
- 20 मार्च पलाना के पास कार (टवेरा) व ट्रक की टक्कर, दो की मौत।- 25 मार्च को पूगल के पास ट्रेलर व बाइक की भिड़ंत, तीन की मौत।

पिकअप व बाइक से हादसे ज्यादा
पुलिस सूत्रों की मानें तो जिले में पिकअप व बाइक के कारण सड़क हादसे ज्यादा हो रहे हैं। पिकअप चलाने वाले अघिकांश चालक अनुभवी नहीं होते हैं। खेत में काम करते और बैल गाड़ी व ऊंटगाड़ी से सीधा पिकअप व ट्रेक्टर चलाने लगते हैं। यह लोग राजमार्ग पर तेजगति से वाहन चलाकर दुर्घटनाकारित करते हैं। बाइक चालक तीन से पांच सवारी बैठा कर तेज गति से वाहन चलाते है, जिससे बाइक कंट्रोल नहीं होती और हादसे का शिकार हो जाती है।
सड़क हादसे चिंता की बात हैं। पुलिस हादसे रोकने के प्रयास करती है लेकिन जब तक आमजन सचेत नहीं होंगे, हादसे नहीं थमेंगे। पुलिस तेजगति, क्षमता से अधिक सवारियों व बिना हेलमेट वालों के खिलाफ कार्रवाई करती है। - सुनील कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.