scriptbikaner news kitchen garden | 68 की उम्र में 'नानी' ने तैयार कर डाला किचन गार्डन | Patrika News

68 की उम्र में 'नानी' ने तैयार कर डाला किचन गार्डन

बुजुर्ग महिला खाली बाड़े में उगा रही ठंडे प्रदेशों की सब्जियां, यूट्यूब पर साझा कर रही सबके साथ यह नवाचार

 

बीकानेर

Published: January 17, 2022 09:13:43 pm

अतुल आचार्य

बीकानेर. बीकानेर की रहने वाली 68 वर्षीय बुजुर्ग अनिता फ गेरिया के जोश और जुनून को देखकर यह उक्ति सटीक प्रतीत होती है। उन्होंने इस उम्र में भी मेहनत कर एक किचन गार्डन तैयार किया है। बिना किसी के सहयोग से रोजाना 5 से 6 घंटे इसकी देखभाल करती हैं। इसमें सब्जियों के साथ फ ल और फ ूल भी उगे हुए हैं। खास बात यह है कि वह अपने इस काम को अपने तक सीमित नहीं रखकर सोशल मीडिया के माध्यम से देश-दुनिया तक पहुंचा रही हैं। वह भी हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में। ठण्डे इलाकों में पैदा होने वाली सब्जी को किचन गार्डन में उगाने के साथ पूरी जानकारी यू-ट्यूब पर सबके साथ साझा भी करती है।
68 की उम्र में 'नानी' ने तैयार कर डाला किचन गार्डन
68 की उम्र में 'नानी' ने तैयार कर डाला किचन गार्डन
नानी का किचन गार्डन
फगेरिया ने बताया कि बाहर रहने वाली नातिन जब आती है, तो नानी का गार्डन पहले देखती है। इस वजह से आसपास के लोग भी अब इसे नानी का किचन गार्डन कहने लगे हैं। वे आगे बताती हैं तीन साल पहले घर के पास खाली पड़े बाड़े में अपने शौक को पूरा करने की शुरुआत की। अब मेहनत रंग ला रही है।
नई तकनीकों की मदद
मौसम परिवर्तन में भी नई कृषि तकनीकों से मिट्टी या खाद में बदलाव करना, बुआई और सिंचाई की नई तकनीक का प्रयोग करते हुए यहां पैदा नहीं होने वाली सब्जियां भी गार्डन में उगाने में ये सफल रही हैं। उन्होंने बताया कि अपने गार्डन में सफल रहे प्रयोग को वह सोशल मीडिया के माध्यम से सभी के साथ शेयर भी करती हैं।
खुद ही बनाती हैं वीडियो
सोशल मीडिया के माध्यम से यूट्यूब पर अनिता फ गेरिया के नाम से चैनल बनाया है। इस पर खेती व हैल्थ बेनीफि ट के वीडियो भी अपलोड करती हैं। इस काम में वह किसी की मदद नहीं लेतीं। खुद वीडियो बनाती हैं, एडिट करती हैं और फिर उसे अपने चैनल पर अपलोड करती हैं। अब तक 100 से भी अधिक वीडियो अपने चैनल पर अपलोड कर रखे हैं। इनमें कौन से पौधे को कब लगाना है, कौन सी किस्म सही है और कैसे उसका पालन-पोषण करना है, पूरी जानकारी देती हैं।

खाद भी खुद तैयार की
फगेरिया पौधों में देने वाली खाद को भी खुद ही तैयार करती हैं। इसके लिए नारियल के छिलकों को एक ड्रम में 15 से 20 दिन तक भिगोकर रखती हैं। उसके बाद पौधों को जल्दी तैयार करने के लिए इसके पानी का छिड़काव करती है। इसके बाद इन छिलकों से खाद तैयार करती हैं।
इनके पौधे
अनिता फ गेरिया ने बताया कि इस किचन गार्डन में गाजर, मेथी, पालक, धनियां, शलजम, सभी तरह की गोभी, ग्वारपाठा व सेव बेर, पपीता, नींबू, चीकू, अमरूद, किन्नू, मौसमी, बील सहित कई तरह की सब्जियों और फ लों के पौधे लगाए हुए हैं। जिनको देखने के लिए भी काफ ी लोग यहां आते हैं। उन्होंने गार्डन में स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए भी कई पेड़ लगा रखे हैं, जिसमें सहजन और अंजीर के पेड़ भी लगा रखे हैं।

दो साल से नहीं खरीदी सब्जियां
फ गेरिया परिवार ने पिछले दो साल से बाहर की सब्जियां नहीं खरीदीं। गार्डन में जो होती है उसका ही घर में उपयोग करते है। अगर अधिक बच जाती है तो पड़ोसी और रिश्तेदारों में बांट देते है। अगर पौध बचती है तो वो भी किसी जान-पहचान वाले को दे देते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्डIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाबिहार की सीमा जैसा ही कश्मीर के परवेज का हाल, रोज एक पैर पर कूदते हुए 2 किमी चलकर पहुंचता है स्कूलकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहाOla, Uber, Zomato, Swiggy में काम करके की पढ़ाई, अब आईटी कंपनी में बना सॉफ्टवेयर इंजीनियरपंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.