मरीजों की कुंडली होगी ऑनलाइन

एसपी मेडिकल कॉलेज एवं पीबीएम प्रशासन ने सरकार को भेजे प्रस्ताव

By: Atul Acharya

Published: 08 Oct 2021, 08:24 PM IST

बीकानेर. सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज संबद्ध प्रिंस बिजयसिंह मेमोरियल हॉस्पिटल में अब मरीजों को चिकित्सकों के चक्कर नहीं निकालने पड़ेंगे। चिकित्सकों का रजिस्ट्रेशसन से लेकर, जांच व भर्ती और डिस्चार्ज तक तक की प्रक्रिया ऑनलाइन करने की कवायद शुरू हो गई है। यह व्यवस्था लागू होने से मरीजों की संख्या, दवा, उपचार व जीवनरक्षक उपकरणों के संबंध में चिकित्सक एवं प्रशासनिक अधिकारी अपने ऑफिस में बैठे एक क्लिक पर सारी जानकारी देख सकेंगे।


मरीज भी देख सकेंगे अपनी रिपोर्ट
अस्पताल सूत्रों के मुताबिक पीबीएम अस्पताल प्रशासन एकबार प्रथम चरण में मरीजों की जांच, भर्ती, दवा सहित अन्य कार्यों को ऑनलाइन कर रहा है। दूसरे चरण में पूरे पीबीएम को ऑनलाइन करने पर कम करेगा। इसके तहत हर मरीज की एक स्पेशल आईडी बनाई जाएगी। ओपीडी व आईपीडी की अलग-अलग होगी। ओपीडी के मरीजों को जांच कराने के बाद अपनी रिपोर्ट देखने के लिए पीबीएम अस्पताल की वेबसाइट पर जाना होगा।


वर्तमान में यह ऑनलाइन
मरीजों का रजिस्ट्रेशन, जन्म-मृत्यु प्रमाण-पत्र, भामाशाह, जननी सुरक्षा योजना, एमएनडीवाई, एमएनसीवाई सहित सभी सरकारी योजनाएं। ड्रग वेयर हाउस में आने वाली दवाइयांए दवा वितरण केन्द्र पर पहुंचने वाली पर्चियां।

यह होगा फायदा
पीबीएम में मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के मरीजों का संपूर्ण डाटा ऑनलाइन किया जा रहा है। ऑनलाइन का काम चिरंजीवी ऑनलाइन सिस्टम से जोड़ा गया है। ऑनलाइन होने से विभागीय चिकित्सक किसी भी मरीज का डेटा चेक कर सकते हैं। कॉलेज प्राचार्य एवं पीबीएम अधीक्षक सहित सभी विभागाध्यक्ष आईसीयू, लैब आदि की मॉनिटरिंग अपने-अपने ऑफिस में बैठे-बैठे कर सकेंगे।

सहज इलाज मिलेगा
पीबीएम से संबद्ध विभागों में पहुंचने वाले हरेक मरीज का रेकार्ड ऑनलाइन करने की व्यवस्था कर रहे हैं। वर्तमान में हार्ट हॉस्पिटल एवं मानसिक रोग अस्पताल के मरीजों का संपूर्ण डाटा ऑनलाइन हो रहा है। ऑनलाइन सिस्टम पूरी तरह से लागू हो गया तो मरीजों को बेवजह के चक्कर निकालने से मुक्ति मिलेगी। साथ ही इलाज भी सहज उपलब्ध हो सकेगा। पीबीएम अस्पताल के विभागों की आइपीडी व ओपीडी के मरीजों का डाटा ऑनलाइन करने के लिए प्रस्ताव सरकार को भेजे गए हैं। इसके लिए जयपुर की राज कॉप इंफो सर्विसेज लिमिटेड़ (आरआइएसएल) से एमओयू होना है। सरकार से मंजूरी मिलते ही काम शुरू कर दिया जाएगा।
डॉ. परमेन्द्र सिरोही, अधीक्षक पीबीएम अस्पताल

Atul Acharya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned