scriptBikaner-Sewerage Treatment Plant | सीवरेज प्रोजेक्ट का कार्य बाकी, रुडसिको ने निगम से मांगी रिपोर्ट | Patrika News

सीवरेज प्रोजेक्ट का कार्य बाकी, रुडसिको ने निगम से मांगी रिपोर्ट

locationबीकानेरPublished: Jan 31, 2024 06:05:23 pm

Submitted by:

Vimal Changani

रुडसिको ने बीकानेर नगर निगम से तीन बिन्दुओं व निर्धारित फार्मेट के तहत रिपोर्ट मांगी है। इसमें सीवरेज प्रोजेक्ट में देरी का कारण, प्रोजेक्ट से अब तक क्या लाभ मिला है व प्रोजेक्ट पूरा होने से क्या लाभ मिलेगा तथा प्रोजेक्ट के बाकी कार्य कब तक पूरे होंगे, की रिपोर्ट मांगी है।

सीवरेज प्रोजेक्ट का कार्य बाकी, रुडसिको ने निगम से मांगी रिपोर्ट
सीवरेज प्रोजेक्ट का कार्य बाकी, रुडसिको ने निगम से मांगी रिपोर्ट

अमृत योजना 1.0 के तहत शहर में सीवरेज प्रोजेक्ट के तहत प्रारंभ हुआ कार्य अब भी बाकी है। प्रोजेक्ट के तहत अब तक बाकी कार्यों को लेकर आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार के निर्देश पर रुडसिको ने नगर निगम से रिपोर्ट मांगी है। रुडसिको ने बीकानेर नगर निगम से तीन बिन्दुओं व निर्धारित फार्मेट के तहत रिपोर्ट मांगी है। इसमें सीवरेज प्रोजेक्ट में देरी का कारण, प्रोजेक्ट से अब तक क्या लाभ मिला है व प्रोजेक्ट पूरा होने से क्या लाभ मिलेगा तथा प्रोजेक्ट के बाकी कार्य कब तक पूरे होंगे, की रिपोर्ट मांगी है।

गौरतलब है कि निगम महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने नवम्बर 2023 में आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार हरदीप सिंह पुरी को पत्र लिखकर अमृत योजना 1.0 के तहत प्रारंभ हुए सीवरेज प्रोजेक्ट के तहत कार्य बाकी होने की सूचना दी थी। जिसमें केन्द्रीय मंत्री को बताया था कि प्रोजेक्ट के तहत सोलर प्लांट,घरों के सीवरेज कनेक्शन, अनुबंधानुसार सीवरेज लाइन डालने के बाद सड़क पुनरुद्धार, पौधरोपण के कार्य बाकी है। एसटीपी प्लांट की ओर से निर्धारित मापदंडों पर पानी शोधित नहीं करने की जानकारी दी गई थी। महापौर ने केन्द्र से टीम गठित कर पूरे कार्य की गहनता से जांच करवाने और संवेदक के विरुद्ध कार्यवाही करने के लिए पत्र लिखा था। जिस पर मंत्रालय ने रुडसिकों को पत्र लिखकर प्रोजेक्ट के तहत हुए कार्य, बाकी कार्य इत्यादि की सम्पूर्ण रिपोर्ट भेजने के लिए कहा। इस पर रुडसिकों ने नगर निगम से प्रोजेक्ट से जुड़ी रिपोर्ट मांगी है।

शोधित पानी का पूरा उपयोग नहीं

अमृत योजना 1.0 के तहत बल्लभ गार्डन क्षेत्र में 20-20 एमएलडी के दो सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तैयार हुए हैं। वहीं सरह नथानिया क्षेत्र में भी 12 एमएलडी का एसटीपी तैयार हुआ। बल्लभ गार्डन एसटीपी में वर्तमान में करीब 15 एमएलडी पानी ही रोज शोधित हो पा रहा है, जबकि सरह नथानिया एसटीपी में 7 एमएलडी पानी का शोधन। नगर निगम अब तक शोधित पानी का पूरा उपयोग नहीं कर पाया है। बड़ी मात्रा में शोधित पानी खुले में बह रहा है।एनएलसी को अब तक निगम शोधित पानी बेच नहीं पाया है।

सोलर ऊर्जा प्रोजेक्ट का कार्य बाकी

बल्लभ गार्डन एसटीपी परिसर में टेंडर अनुसार 3 किलोवाट क्षमता का सोलर ऊर्जा का प्लांट स्थापित होना था। इस ऊर्जा से ही एसटीपी का संचालन और प्रकाश व्यवस्था होनी है। वर्ष 2020 में पूरा होने वाला कार्य अब तक बाकी है। हालांकि कोविड के चलते कार्य पूरा करने की अवधि बढ़ाई गई थी। बताया जा रहा है कि तीन किलोवाट क्षमता से सोलर ऊर्जा का उत्पादन अब तक यहां नहीं पाया है। सोलर ऊर्जा का प्रोजेक्ट पूरा होने पर हर महीने निगम को करोड़ों रुपए विद्युत खर्च राशि से निजात मिल सकती है।

रिपोर्ट भेज दी है

अमृत योजना 1.0 के तहत हुए सीवरेज प्रोजेक्ट के तहत कार्यों को लेकर रुडसिको की ओर से मांगी गई रिपोर्ट को भेज दिया गया है। जिन तीन बिन्दुओं के आधार पर जानकारी मांगी गई, बिन्दुवार रिपोर्ट भेज दी है।

-के एल मीणा, आयुक्त, नगर निगम, बीकानेर।






ट्रेंडिंग वीडियो