बीकानेर में गेहूं का छह माह के लिए है पर्याप्त भण्डारण

बीकानेर में गेहूं का छह माह के लिए है पर्याप्त भण्डारण

 

By: Atul Acharya

Published: 07 Apr 2020, 05:35 PM IST

बीकानेर. लॉकडाउन के बावजूद भारतीय खाद्य निगम के गोदामों में गेहूं के भण्डार भरे हुए हैं। अधिकारियों का दावा है कि आगामी छह माह तक निशुल्क खाद्य वितरण के लिए उनके पास गेहूं की पर्याप्त उपलब्धता है। इसके अलावा रोजाना गेहूं से भरे नए ट्रक श्रीगंगानगर और हरियाणा से आ रहे हैं। लॉकडाउन को देखते हुए राज्य सरकार ने जहां पांच किलो गेहूं निशुल्क देने की घोषणा की थी, वहीं पांच किलो गेहूं केन्द्र सरकार की प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत निशुल्क दिया जाएगा। गरीबों में बांटे जाने वाले गेहूं वितरण को लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय को हर दिन की रिपोर्ट भेजी जा रही है।

इन्हें निशुल्क मिल रहा गेहूं

केन्द्र व राज्य सरकार की अन्त्योदय, बीपीएल, स्टेट बीपीएल, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के चयनित लोगों को पांच-पांच किलो प्रति सदस्य निशुल्क दिया जा रहा है। उचित मूल्य की दुकानों पर होने वाले इस वितरण में कोरोना को देखते हुए बिना पोस मशीन के ही राशन मिल रहा है।


तीन गुणा अधिक भण्डारण
भारतीय खाद्य निगम के खारा, सीडब्ल्यूसी प्रथम, सीडब्ल्यूसी द्वितीय, सुजानगढ़, सादुलशहर, चूरू तथा झुंझुनूं के गोदामों में आम महीनों की तुलना में तीन गुणा अधिक गेहूं की उपलब्धता है। बीकानेर संभाग के गोदामों में करीब पचास हजार मीट्रिक टन गेहूं की उपलब्धता है। कोरोना प्रकोप के चलते हुए लॉकडाउन को देखते हुए बीकानेर संभाग में गेहूं की कोई कमी नहीं है। भारतीय खाद्य निगम की ओर से सेना को भी गेहूं और चावल उपलब्ध करवाया जा रहा है।

- अरुण कुमार, मण्डल प्रबंधक भारतीय खाद्य निगम।

Atul Acharya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned