बिना पानी व गर्मी में मरी गायें, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा

गौशाला संचालक के विरुद्ध एफआइआर दर्ज

संयुक्त निदेशक पशुपालन डॉ. किलानिया ने दर्ज करवाया मामला

खाजूवाला के 28 बीडी रोही का का मामला

By: Vimal

Published: 11 Sep 2021, 06:22 PM IST

बीकानेर. जिले के खाजूवाला स्थित 28 बीडी की रोही में गत दिनों गर्मी होने तथा प्यास से गौवंश की मौत हो गई। पशुपालन विभाग की ओर से मृत गायों के किए गए पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गौवंश की मौत का कारण डिहाइड्रेशन बताया गया है। विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. ओम प्रकाश किलानिया के अनुसार गायों को पानी नहीं मिलने से उनको डिहाइड्रेशन हो गया व इससे उनकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि विभाग की ओर से गठित किए गए मेडिकल बोर्ड में शामिल तीन वरिष्ठ चिकित्सकों ने मौके पर पहुंचकर मृत गौवंश का पोस्टमार्टम किया। डॉ.किलानिया के अनुसार मौके पर गौशाला की 24 टैग लगी व बिना टैग लगी ४ गायें मृत मिली।

 

529 गौवंश, 28 मृत मिले

संयुक्त निदेशक के अनुसार गौशाला में 529 गौवंश था। 28 बीडी की रोही में 24 टैग लगे व 4 बिना टैग लगे मृत गौवंश मिले। डॉ. किलानिया के अनुसार विभाग की ओर से एक पशु चिकित्सक को 10 बीडी में नियुक्त किया गया है।

 

दर्ज करवाया मामला
पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. किलानिया ने इस मामले को लेकर संबंधित लड्डू गोपाल गौ सेवा समिति के संचालक पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए खाजूवाला थाने में मामला दर्ज करवाया है। डॉ. किलानिया के अनुसार गौ संरक्षण एवं संवद्र्धन निधि नियम 2016 के अन्तर्गत गौशाला को 529 गौवंश के लिए नियमानुसार राशि 10 लाख 62 हजार रुपए का भुगतान किया गया। गौशाला संचालक ने नियमों से बाहर जाकर गौवंश को परिसर से बाहर निकाला, गौवंश के स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रखा और लापरवाही की।

 

ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन
ग्रामीणों ने उपखण्ड अधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया। वहीं उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन देकर लड्डू गोपाल गोसेवा समिति 10 बीडी की मान्यता रद्द करवाने की मांग की है। ग्रामीण भंवरसिंह, सुनील रणवां, कमलेश बिश्नोई, प्रकाश सहारण, राजेन्द्र बेनीवाल सहित लोगों ने ज्ञापन में मांग की कि खाजूवाला के 10 बीडी की गोशाला की पिछले दिनों सैकड़ों गायें मर गई है। ग्रामीणों के प्रदर्शन पर प्रशासन ने आश्वासन दिया गया था कि गोशाला की मान्यता रद्द कर गायों को दूसरी गोशाला में भेज दिया जाएगा।

Show More
Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned