सीटें बढ़ाने और फीस घटाने की मांग को लेकर एबीवीपी का प्रदर्शन

सीटें बढ़ाने और फीस घटाने की मांग को लेकर एबीवीपी का प्रदर्शन

dinesh swami | Publish: Jul, 14 2018 11:22:16 AM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के बैनर तले डूंगर कॉलेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मांगीलाल गोदारा के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने शुक्रवार को डूंगर कॉलेज पर प्रदर्शन कर प्राचार्य को और महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में परीक्षा नियंत्रक को ज्ञापन सौंपा।


बीकानेर. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के बैनर तले डूंगर कॉलेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मांगीलाल गोदारा के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने शुक्रवार को डूंगर कॉलेज पर प्रदर्शन कर प्राचार्य को और महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में परीक्षा नियंत्रक को ज्ञापन सौंपा। छात्रों ने कॉलेजों में सीटें बढ़ाने, डिफाल्टरों को मौका देने, पीजी आवेदन तिथि बढ़ाने, पुनर्मूल्यांकन की बढ़ी फीस वापस लेने, अतिरिक्त वसूली फीस वापस करने की मांग रखी।

छात्रों ने डूंगर कॉलेज के मुख्य द्वार प्रदर्शन कर प्राचार्य को चेताया कि सोमवार तक समस्याओं का निस्तारण नहीं हुआ तो सभी कॉलेज बंद कराने जैसे कदम उठाएंगे। इसके बाद प्रतिनिधि मंडल विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक से मिला और विश्वविद्यालय के स्तर की समस्याओं को रखा। प्रदर्शन में मानवेन्द्र सिंह राठौड़, देवेन्द्र सिंह, रामनिवास कारगवाल, मोहित, सुनील, राकेश, हेमंत भाटी, राजेन्द्र भाटी, अशोक मेघवाल आदि विद्यार्थी शामिल रहे।

 

पॉलीटेक्निक कॉलेज में प्रवेश शुरू
बीकानेर. राजकीय पॉलीटेक्निक महाविद्यालय में प्रथम वर्ष डिप्लोमा नॉन इंजीनियरिंग कॉस्ट्यूम डिजाइन, टैक्सटाइल डिजाइन व डिप्लोमा इंजीनियरिंग इलक्ट्रोनिक्स में प्रवेश के लिए आवेदन मांगे गए हैं। महाविद्यालय प्रचार्या ने बताया कि इच्छुक विद्यार्थी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 19 जुलाई व नॉन इंजीनियरिंग ब्रांच के लिए 18
जुलाई है। प्रवेश के लिए न्यूनतम योग्यता 10वीं उतीर्ण होना आवश्यक है। आवेदन विभागीय वेबसाइट पर किए जा सकते हैं।

 

प्रधानाचार्य के 414पदों पर पदस्थापन 16 को
बीकानेर. राज्य में प्रधानाचार्य के ४१४ पदों पर १६ जुलाई को काउंसलिंग के बाद तत्काल पदस्थापन आदेश जारी कर दिए जाएंगे। माध्यमिक शिक्षा संयुक्त निदेशक (कार्मिक) नूतन बाला कपिला ने कहा कि प्रधानाध्यापकों की सीधी भर्ती के लिए भी राजसथान लोक सेवा आयोग को लिखा गया है। व्याख्याताओं के एक हजार पदों के लिए भी काउंसङ्क्षलग की जानी है। इधर राज्य सरकार स्कूली शिक्षा में प्रशासनिक व्यवस्था बदलने के प्रारूप पर चर्चा कर रही है। नई व्यवस्था में संभाग मुख्यालय पर संयुक्त निदेशक का पद सृजित करने, जिला स्तर पर उप निदेशक तथा तहसील स्तर पर जिला शिक्षा अधिकारी स्तर का अधिकारी लगाने बात कही जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned